बांका। इंगलिश मोड़-जेठौर मुख्य मार्ग के पंचायत सरकार भवन स्थित कठैल मोड़ के पास एक ओवरलोडेड बालू लदा ट्रक की चपेट में आने से मां-बेटी की मौत हो गई। घटना मंगलवार की देर रात की है। शव की पहचान चौकीदार रंजीत ¨सह की पत्नी नीलम देवी (25) एवं पुत्री अनुष्का कुमारी (ढ़ाई साल) के रूप में हुई है। घटना में रंजीत भी जख्मी हो गया है। हादसे से आक्रोशित लोगों ने बुधवार की सुबह मुआवजे की मांग को लेकर इंगलिश मोड़ चौक की मुख्य सड़क पर टायर जलाकर लगभग पांच घंटे तक आवागमन बाधित कर दिया। इस कारण इंगलिश मोड़-शंभूगंज मुख्य मार्ग, इंगलिश मोड़-अमरपुर मुख्य मार्ग, इंगलिश मोड़-बांका मुख्य तथा इंगलिशमोड़-जेठौर मुख्य मार्ग में लगभग पांच घंटे तक वाहनों का आवागमन बाधित रहा । घटना की सूचना पर सीओ मिथिलेश कुमार यादव, थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार, अनि राजकुमार ¨सह सहित अन्य पुलिस बल जाम स्थल पर पहुंचकर आक्रोशित लोगों को समझाने का प्रयास किया। आक्रोशित लोग वरीय पदाधिकारी तथा बालू संवेदक महादेव इन्कलेव से घटनास्थल पर आकर मुआवजे राशि देने की मांग पर अड़े रहे। बाद में पहुंचे सहकारिता बैंक के पूर्व चैयरमेन जितेंद्र ¨सह ने आक्रोशित लोगों को समझा-बुझाकर शांत किया। तथा मौके पर महादेव इन्कलेव के लोगों से बात की। महादेव इन्कलेव ने पीड़ित परिवार को दो लाख व सीओ ने भी मृतक परिवार को आपदा विभाग से चार-चार लाख रुपये का सरकारी मुआवजा राशि शीघ्र देने का अश्वासन दिया । आश्वासन मिलने के लगभग पांच घंटे के बाद जाम समाप्त हुआ।

जानकारी के अनुसार कठैल निवासी चौकीदार रंजीत ¨सह अपनी बीमार पत्नी नीलम देवी एवं पुत्री अनुष्का का इलाज के लिए बाइक से डॉक्टर के यहां जा रहे थे। इसी क्रम में उक्त स्थान पर जेठौर बालू घाट के ड¨म्पग प्वाइंट से बालू लोड कर इंगलिश मोड़ चौक की ओर तेजगति से जा रहे ट्रक संख्या जेएच 04 ई-3924 ने बाइक में ठोकर मार दिया। जिससे बाइक चालक असंतुलित होकर सड़क किनारे गिर गया। जबकि उसकी पत्नी व बेटी ट्रक के पिछले टायर के नीचे आ गई। दोनों की मौत घटनास्थल पर ही हो गई। थानाध्यक्ष ने बताया दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए बांका सदर अस्पताल भेज दिया गया है। ट्रक को जब्त कर लिया गया है। घटना के बाद चालक फरार हो गया।

एक अन्य घटना रजौन में हुई है। जहां ट्रैक्टर से कुचलकर रामवरण यादव के दस वर्षीय पुत्र अनिश कुमार की मौत हो गई है। घटना के बाद चालक ट्रैक्टर को लेकर फरार हो गया।

Posted By: Jagran