औरंगाबाद। जिले के 103 माध्यमिक विद्यालयों में स्मार्ट क्लास शुरु की जाएगी। बांका मॉडल के तहत यहां भी उन्नयन योजना के तहत सरकारी उच्च विद्यालयों में स्मार्ट क्लास चलाने की योजना तैयार की गई है। जिस विद्यालय में इसे लागू करना है उस विद्यालय के प्रधानाध्यापकों के प्रशिक्षण को लेकर सर्व शिक्षा अभियान कार्यालय में उन्मुखीकरण कार्यशाला का आयोजन किया गया है। डीपीओ मिथिलेश कुमार सिंह एवं सहायक कार्यक्रम पदाधिकारी राजेश मांझी ने बताया कि बांका मॉडल के तहत उन्नयन योजना में इस जिले के 103 माध्यमिक विद्यालयों का चयन किया गया है। चयनित विद्यालयों में स्मार्ट क्लास चलाने के लिए 90-90 हजार रुपये उपलब्ध कराई गई है। उपलब्ध कराई गई राशि से विद्यालयों के प्रधानाध्यापक एलइडी व अन्य संसाधन की खरीद करेंगे और स्मार्ट क्लास का संचालन करेंगे। प्रथम चरण में पांच विद्यालयों में इसे शुरू करने का निर्णय लिया गया है। योजना की सफलता के लिए चयनित विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। एक बैच में 40 प्रधानाध्यापकों को प्रशिक्षण दी जा रही है। सोमवार तक प्रशिक्षण चलेगा। डीपीओ ने बताया कि मुख्यमंत्री के हर पंचायत में उच्च विद्यालय की योजना के तहत इस जिले में 203 पंचायतों के 175 पंचायतों में माध्यमिक विद्यालय को खोला गया है। कई मध्य विद्यालय को उत्क्रमित कर माध्यमिक विद्यालय बनाया गया है। शेष पंचायतों में शीघ्र ही माध्यमिक विद्यालय को खोला जाएगा। स्मार्ट क्लास के संचालन में आएगी कई परेशानी

जिले के माध्यमिक विद्यालयों में स्मार्ट क्लास के संचालन में कई परेशानी आएगी। बताया जाता है कि कई विद्यालयों में बिजली का कनेक्शन नहीं है। जिस विद्यालय में लोकसभा चुनाव के दौरान बिजली पहुंचाई गई है वहां बिजली बिल देने के लिए कोई आवंटन नहीं है। पूर्व में जिले के कई उच्च विद्यालयों में कंप्यूटर दी गई थी आज लगभग सभी विद्यालयों में कंप्यूटर की चोरी हो गई, जहां चोरी नहीं हुई वहां का कंप्यूटर धूल फांक रहा है। यही हाल स्मार्ट क्लास के लिए एलइडी, इन्वर्टर व अन्य संसाधनों के विद्यालयों में लगने के बाद होगा। ग्रामीण इलाके के माध्यमिक विद्यालयों से एलइडी समेत अन्य संसाधनों की सुरक्षा की कोई व्यवस्था नहीं है। ऐसी स्थिति में एलइडी, इन्वर्टर समेत अन्य संसाधन कैसे बचेगा यह समस्या है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस