कोरोना के काल में प्रवासी श्रमिकों एवं कामगारों को सेवा करने वाले कोरोना योद्धाओं को सांसद सुशील कुमार सिंह ने मंगलवार को अपने आवास पर सम्मानित किया। सम्मानित करने के पहले सांसद ने कहा कि कोरोना योद्धाओं के बदौलत ही ट्रेन से दूसरे राज्यों से आने वाले प्रवासी श्रमिकों एवं कामगारों को कोई परेशानी नहीं हुई। उन्हें भोजन, नास्ता से लेकर पानी तक की सुविधा उपलब्ध कराई गई। ट्रेन के अलावा काफी संख्या में लोग जीटी रोड के द्वारा आने वाले प्रवासी लोगों को स्नान से लेकर भोजन, नास्ता और पानी की सुलभ सुविधा उपलब्ध कराई गई। सांसद ने कहा कि लॉकडाउन में इस जिले के लोग जहां भी दूसरे राज्यों में फंसे रहे उनकों वहां के स्थानीय जनप्रतिनिधि से लेकर स्थानीय प्रशासन के द्वारा न सिर्फ मदद पहुंचाई गई बल्कि राशन और किराना सामान तक उपलब्ध कराया गया। जिस राज्य के जिस जगह से यहों के लोगों ने हमसे संपर्क किया शीघ्र ही उनलोगों तक मदद पहुंचाई गई। सांसद ने कहा कि कोरोना के संक्रमण से बचाव के लिए औरंगाबाद एवं गया जिला प्रशासन को 612 पीपीई किट और 40 थर्मल स्कैनर उपलब्ध कराया गया। गया डीएम को 22 पीपीई किट और 40 थर्मल स्कैनर दी गई। सांसद ने बताया कि अनुग्रह नारायण रेलवे स्टेशन पर पूर्व सांसद रामनरेश सिंह उर्फ लूटन बाबू की स्मृति में गठित सेवा संस्थान के माध्यम से दूसरे राज्य से आने वाले सभी लोगों को नास्ता और पानी की सुविधा उपलब्ध कराई गई। इस स्टेशन से गुजरने वाले दूसरे राज्यों और जिलों को जाने वाले पांच हजार लोगों को भी नास्ता का पॉकेट और ठंडा पानी दी गई। सांसद के भाई व वरीय भाजपा नेता सुनील सिंह ने कहा कि इस दौरान करीब 50000 से अधिक प्रवासी लोगों को भोजन, नास्ता, पानी और शीतल पेय पदार्थ की सुविधा उपलब्ध कराया गया। कहा कि कोरोना के काल में जितना बना कोशिश की गई प्रवासी लोगों को कोई दिक्कत नहीं हो और इसी उद्देश्य से काम किया गया। इस कार्य में मृत्युजंय सिंह, चालक चुन्नु, राजू सिंह, सोनू कुमार समेत अन्य लोग कोरोना योद्धा के रूप में दिन और रात काम किए। स्टेशन के अलावा जीटी रोड पर मंजुराही गांव के पास लूटन बाबू सेवा संस्थान के द्वारा शिविर लगाकर प्रवासी श्रमिकों और कामगारों को स्नान से लेकर भोजन, नास्ता और पीने का पानी की सुविधा उपलब्ध कराई गई। यहां इस सेवा में राजकुमार सिंह, रवि सिंह, अश्विनी सिंह, आंशु अभिनव, शशिकांत ओझा, मनीष पाठक, मितेंद्र कुमार सिंह समेत उनके अन्य समर्थक और पार्टी नेता लगे रहे। बताया कि यहां के अलावा वार में पुर्व मुखिया अरूण सिंह, शिवगंज में डिहुली के सुधीर कुमार, खिरियांवां मोड़ पर पूर्व जिला पार्षद प्रफुल सिंह, उमाकांत कुमार एवं अन्य सहयोगी, देव मोड़ पर देव के दुर्गा समिति के अनूप गुप्ता, आलोक कुमार के साथ समिति के सभी सदस्यों ने जीटी रोड से जाने वाले प्रवासी श्रमिकों एवं कामगारों को नास्ता और पीने का पानी दी गई। इस सेवा में पार्टी के महिला मोर्चा के अध्यक्ष अनिता सिंह का सहयोग काफी मिला। अंबा में आकाश कुमार सिंह के द्वारा प्रवासी लोगों को सुविधा उपलब्ध कराई गई। सांसद ने सभी कोरोना योद्धाओं को सम्मानित करते हुए कहा कि इनकी सेवा के बदौलत ही इस जिले की सेवा की चर्चा पूरे बिहार में हुई। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ने मेरे समर्थक पार्टी नेताओं के द्वारा दी गई सेवा की सराहना की। सांसद ने कहा कि कोरोना के काल में यहां के रेडक्रॉस, शिखा कंप्यूटर, औरंगाबाद सेवा शिविर, सरस्वती अराध्य समिति, एलआइसी के अभिकर्ता, मिलर एसोसिएशन समेत अन्य संस्थाएं काबिले तारीफ काम किए हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस