औरंगाबाद [जेएनएन]। रविवार को बिहार के औरंगाबाद जिले में प्रकृति का कहर देखने को मिला। यहां वज्रपात से पांच लोगों की मौत हो गई, जबकि 26 से अधिक जख्‍मी हो गए। मृतक के परिजनों को चार-चार लाख का मुआवजा दिया गया है।

जानकारी के अनुसार, औरंगाबाद जिले के ओबरा थाना के पुनपुन दोमुहान घाट पर रविवार को वज्रपात से पांच ग्रामीणों की मौत हो गई। हादसे में करीब 26 से अधिक ग्रामीण घायल हो गए। मृतकों में ओबरा थाना के कारा टोले दूबे बिगहा निवासी उपेंद्र सिंह (50 वर्ष), ओबरा के कुरायपुर गांव निवासी दशरथ चौधरी (40 वर्ष), कारा के पंकज कुमार (25 वर्ष) एवं जम्होर थाना के कझवां गांव निवासी विष्णुपत साव (55 वर्ष) तथा एक अन्‍य शामिल हैं।
घायलों में कारा बिगहा निवासी प्रवीण कुमार, मदन मोहन दूबे, मुरारी कुमार, गोलू कुमार, सर्वोत्तम कुमार, अनिल कुमार सिंह, प्रीतम कुमार, दुर्गालाल खत्री, राहुल कुमार, रामनारायण सिंह,ध्रूव कुमार, रामवल्लभ सिंह, मुरारी यादव, मनीष कुमार, सतीष पांडेय, सुनील दूबे,  कुरमाइन गांव निवासी नरेश यादव, रोहतास जिले के नोखा थाना के कुरी गांव निवासी देवेंद्र तिवारी, ओबरा के मृत्युंजय चौधरी, कझवां गांव निवासी शुभम तिवारी, दुर्गाशरण तिवारी, माधव शरण तिवारी शामिल हैं।
सभी घायलों का इलाज स्थानीय पीएचसी में करने के बाद सदर अस्पताल में किया जा रहा है। गंभीर रुप से घायल मुरारी कुमार एवं गोलू कुमार को बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल से रेफर किया गया। घटना की सूचना पर ओबरा विधायक वीरेंद्र कुमार सिन्हा, डीएम राहुल रंजन महिवाल, एसपी डा. सत्यप्रकाश, एसडीओ प्रदीप कुमार, एसडीपीओ अनूप कुमार, दाउदनगर एसडीपीओ राजकुमार तिवारी सदर अस्पताल पहुंचे। डीएम एवं एसपी ने घायलों को बेहतर इलाज सुनिश्चित करने का आदेश चिकित्सकों को दिया।
डीएम ने बताया कि सभी मृतक के आश्रितों को आपदा राहत कोष के तहत चार-चार लाख रुपये मुआवजा दिया गया है। घायलों का इलाज कराया जा रहा है। बताया जाता है कि मृतक एवं घायल सभी ग्रामीण कारा पैक्स अध्यक्ष रमेश दूबे की मौत के बाद दाह संस्कार के लिए पुनपुन नदी के दोमुहान घाट पर गए थे।
शव जलाए जाने के दौरान सभी एक पुराने यज्ञशाला में एकत्रित थे कि बारिश के साथ वज्रपात हुई। वज्रपात की चपेट में आने से चार ग्रामीणों की मौत हो गई। करीब 25 ग्रामीण घायल हो गए। घटना के बाद मृतकों के गांव से लेकर सदर अस्पताल तक अफरातफरी मच गई।

Posted By: Ravi Ranjan

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप