औरंगाबाद, जेएनएन। रात में हुई शादी और खुशी-खुशी दूल्हा अपनी दुल्हन को उसके मायके से विदा करा अपने घर ले जा रहा था। रास्ते में दोनों अपनी नई दुनिया के हसीन सपने देख रहे थे। दुल्हन को मायका छूटने का गम था और वो उदास थी तो दूल्हा उसे उदास देखकर उसे रास्ते भर खुश करने की कोशिश में लगा था, लेकिन क्या पता था कि नियति को दोनों का साथ शायद पसंद नहीं था।

भगवान ने रात में दोनों का रिश्ता बांधा और सात जन्मों का साथ निभाने का वचन देने के बाद सुबह इस तरह इस जन्म में ही साथ इस तरह छूट जाएगा, ये देखकर सबकी आंखें भर आयीं। 

दरअसल, औरंगाबाद -अंबा पथ के दोस्ताना होटल के पास  मंगलवार सुबह दो वाहनों की जोरदार टक्कर हो गई जिसमें शादी के बाद दूल्हा-दुल्हन को लेकर आयी कार के परखचे उड़ गए और दुल्हन नेहा कुमारी की दूल्हे के सामने मौत हो गई । वहीं, दूल्हा उज्ज्वल कुमार भी गंभीर रूप से घायल हो गया है। उसका इलाज औरंगाबाद सदर अस्पताल में चल रहा है ।

बताया जाता है कि नवीनगर थाना के लखनपुर गांव निवासी आल्हा सिंह की इकलौती बेटी नेहा कुमारी के साथ ओबरा थाना के चेचाढ़ी गांव निवासी इंद्रदेव सिंह के पुत्र उज्ज्वल कुमार उर्फ बबलू की शादी सोमवार रात्रि में हुई थी। शादी के बाद दूल्हा अपनी दुल्हन की विदाई करा अपने घर लौट रहा था कि रास्ते में यह दुर्घटना हो गई।

दुल्हा-दुल्हन की कार दूल्हे का वाहन किसी दूसरे वाहन से टकरा गया। दूल्हा-दुल्हन को इलाज के लिए औरंगाबाद सदर अस्पताल लाया गया जहां चिकित्सक ने दुल्हन को मृत घोषित कर दिया। दूल्हे की स्थिति गंभीर बनी हुई है। अस्पताल में जीवन-मौत की जंग लड़ रहा है। घटना के बाद दुल्हन और दूल्हे के घर में खुशी का माहौल गम में तब्दील हो गया है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप