समाहरणालय परिसर स्थित नगर भवन में सोमवार को लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान के तहत स्वच्छता महोत्सव का आयोजन किया गया। स्वच्छ व्यवहार सुंदर बिहार के तहत आयोजित कार्यक्रम का उद्घाटन डीएम राहुल रंजन महिवाल ने किया। डीआरडीए निदेशक मुकेश कुमार सिन्हा, वरीय उपसमाहर्ता फतेह फैयाज, डीइओ मो. अलीम, डीपीओ आइसीडीएस रीना कुमारी, प्रभारी डीपीआरओ धर्मवीर सिंह ने उद्घाटन में सहयोग किया। डीएम ने कहा कि 15 अगस्त तक पूरे जिले को शौच से मुक्त करना है। इसके लिए शौचालय निर्माण का लक्ष्य शत प्रतिशत पूरा करना है। डीएम ने कहा कि लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान का मुख्य उद्देश्य शौचालय निर्माण के साथ व्यवहार परिवर्तन करना है जो स्वच्छता का पूर्ण अर्थ समझ गए हैं वे दूसरे को समझाने का प्रयास करें। कहा कि अभियान तब ही सफल होगा जब सभी लोग मिलकर कार्य करेंगे। शिक्षा, आइसीडीएस, जीविका, स्वास्थ एवं ग्रामीण विकास विभाग को विशेष रूप से सतर्क करते हुए कहा कि 15 अगस्त तक जिला को ओडीएफ घोषित करने के पहले सभी घरों में शौचालय का निर्माण और लाभुकों को अनुदान की राशि भुगतान करने का कार्य सुनिश्चित करें। डीएम ने जल संरक्षण एवं पौधरोपण को लेकर पूरे जिले में अभियान चलाने का निर्देश दिया। जल संरक्षण के लिए मनरेगा के तहत सभी विद्यालयों में चापाकल का पानी की बर्बादी रोकने के लिए सोख्ता का निर्माण कराने का निर्देश दिया। डीएम ने लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान की सफलता को लेकर सभी प्रखंडों के बीडीओ, मनरेगा पीओ एवं स्वच्छता अभियान से जुड़े कर्मियों को कई निर्देश दिया। स्वच्छता अभियान के जिला कोआर्डिनेटर रंजीत कुमार ने अभियान की सफलता पर चर्चा की। संचालन डा. हेरंब मिश्रा ने किया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप