औरंगाबाद । व्यवहार न्यायालय के पास से गुरुवार को विधिक सेवा दिवस पर जागरूकता रैली को रवाना किया गया। जिला एवं सत्र न्यायाधीश के साथ बलराम दुबे, डीएम कंवल तनुज एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सचिव निशिकांत ठाकुर ने हरी झंडी दिखा रैली को रवाना किया। रैली शहर के पुरानी जीट रोड एवं महाराजगंज रोड का भ्रमण किया। डीजे ने कहा कि रैली का मुख्य उद्देश्य सुलभ न्याय को जन जन तक पहुंचाना है। गरीबों एवं सुदूर गांवों में रहने वाले ग्रामीणों को जागरूक करना है। कहा कि अपने हक और अधिकार के प्रति जो जागरूक नहीं हैं उन्हें जागरूक करना है। प्राधिकार के सचिव ने कहा कि जिला विधिक सेवा प्राधिकार के द्वारा आमजनों को सुलभ न्याय दिलाया जा रहा है। कहा कि लोक अदालत, मध्यस्थता, निशुल्क विधिक सलाह, निरीह और गरीबों को निशुल्क अधिवक्ता, विधिक सेवा केंद्रों के माध्यम से जरूरतमंदों को विधिक सहायता, विधिक जागरूकता, सरकारी कल्याणकारी योजनाओं का लाभ उपलब्ध कराया जा रहा है। नालसा के द्वारा उपलब्ध कराई जा रही विधिक सहायता की जानकारी दी। कहा कि सभी प्रखंडों में रैली निकाली गई है। रैली में शामिल स्कूली बच्चे एवं एनसीसी कैडेटों ने विधिक जागरुकता के नारे लगा रहे थे। हुई लड़ाई हुई अदावत, चलो चलें लोक अदालत, विवाद निपटाने का सुलह को बनाओ आधार, सलामत रखो अपना घर संसार, बाढ़ सुखाड़ या किसी आपदा से पाला हो पड़ा विधिक सेवा प्राधिकार रहेगा साथ खड़ा के नारे लगाए। न्यायिक पदाधिकारी एवं पैनल अधिवक्ता शामिल रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस