अरवल : कोरोना संक्रमण से सुरक्षा के लिए प्रशासन चाहे कुछ भी कर ले नागरिक बेफिक्र हैं। जिले के डीडीसी, सिविल सर्जन, डीएम के निजी अंगरक्षक से लेकर स्वास्थ्यकर्मी भी संक्रमण के शिकार हो चुके लेकिन नागरिक बेफिक्र घूम रहे हैं। अब तो जुर्माना भरकर भी लोग संक्रमण मोल खरीद रहे हैं।

जिले में कोरोना का संक्रमण अभी भी तेजी से फैल रहा है। प्रत्येक दिन कुछ ना कुछ लोग की रिपोर्ट पॉजिटिव आ रही है। इसके बावजूद आम लोग सतर्कता एवं सावधानी नहीं बरत रहे हैं। अधिकांश लोग बिना मास्क लगाए शारीरिक दूरी की उल्लंघन करते हुए दिख रहे हैं। बाजारों में, बस स्टैंड परिसर में एवं वाहन में सफर करने के दौरान कुछ लोग ही मास्क का उपयोग कर रहे हैं। वहीं वाहनों में शारीरिक दूरी का उल्लंघन हो रहा है।सब्जी मंडी में सब्जी विक्रेता और ग्राहक दोनों ही लापरवाही बरतते हुए मास्क का उपयोग नहीं कर रहे हैं अधिकांश सब्जी विक्रेता बिना मास्क लगाए एवं दुकानों के बीच बगैर दूरी बनाए हुए ही बिक्री कर रहे हैं। वहीं ग्राहक भी इन सब का ख्याल रखें बिना ही सामान्य दिनों की तरह ही खरीदारी करते नजर आ रहे हैं। वहीं महिला पुलिस पदाधिकारी जयंती देवी दो पहिया वाहन चालकों की जांच पड़ताल कर रही हैं। दो पहिया वाहन पर सफर करने वाले लोग मास्क का उपयोग भी नहीं कर रहे हैं। वहीं एक ही बाइक पर तीन लोग सफर कर रहे हैं। ऐसी स्थिति में शारीरिक दूरी का अनुपालन नहीं हो पा रहा है। जबकि सरकार एवं जिला प्रशासन बार-बार आम लोगों से मास्क लगाने एवं शारीरिक दूरी का अनुपालन करने का अपील कर रही है। जिला प्रशासन के कई पदाधिकारी विभिन्न क्षेत्रों में घूम घूम कर मास्क लगाने के लिए लोगों को जागरूक कर रहे है। जिसका असर शहरी क्षेत्रों में दिख रहा है।लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में मास्क लगाने वालों की संख्या नगण्य है। ग्रामीण क्षेत्रों में विशेष करके महिलाएं बिना मास्क का उपयोग किए एवं शारीरिक दूरी का पालन नहीं करते हुए भी एक जगह एकत्रित होकर बातें करते रह रही हैं। जबकि कोरोना का संक्रमण का दर जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में शहरी क्षेत्रों के बजाय अधिक है। इसके बावजूद लोग सतर्कता बरतने के लिए तैयार नहीं है। इससे जिले में कोरोना संक्रमण और भी तेजी से फैलने की आशंका बनी हुई है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस