अररिया। कोरोना महामारी से हजारों लोग बेवक्त मौत के आगोश में चले गए। कितनों ने अपनों को खोया है। कई लोग अपनों के अंतिम संस्कार और जनाजे की नमाज तक में शामिल नही हो सके। कोरोना से हुई मौत जिनके घरों में हुई कइयों के स्वजन ने कोरोना के भय से जैसे तैसे शव को जलाया ,दफनाया या नदी में बहा दिया। ऐसे तमाम लोग जिनकी मौत कोरोना से हुई उनकी आत्मा की शांति और उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए दैनिक जागरण 14 जून को दिन के 11 बजे बजे दो मिनट का मौन रखकर उनकी आत्मा की शांति के लिए जो जहां हैं वहीं पर खड़ा होकर श्रद्धांजलि देंगे। जिसके लिए दैनिक जागरण विभिन्न तरीकों से लोगो को जागरूक कर रही है। इसी क्रम में शुक्रवार को दैनिक जागरण की पहल पर बैरगाछी चौक पर युवा समाजसेवी औऱ अररिया बस्ती के पूर्व मुखिया शाद अहमद बबलू ने इलाके के विभिन्न गांव से आए लोगों से कोरोना काल में जिन लोगों की मौत हुई है उन्हें दैनिक जागरण द्वारा 14 जून को 11 बजे दो मिनट का मौन रखकर जो श्रद्धांजलि दी जाएगी उसकी जानकारी लोगों को दे रहे है। पूर्व मुखिया शाद अहमद बबलू ने जागरण का ये एक बेहतरीन प्रयास है। उन्होंने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि अभी कोरोना पूरी तरह खत्म नही हुआ है। ऐसे में सभी लोग हर हाल में मास्क लगाकर ही बाहर निकलें ,सामाजिक दूरी का पालन करें ,साथ ही बार बार साबुन से हाथ धोएं। बबलू ने सरकार से मांग की है ही जिन लोगों की मौत कोरोना से हुई है सरकारी घोषणा के मुताबिक उन्हें अविलंब चार लाख का मुआवजा दिया जाए। साथ ही आज भी जो कोरोना से पीड़ित हैं उन्हें बेहतर इलाज की सुविधा भी दी जाए।

प्रशासनिक पदाधिकारी ने भी कोविड गाइड लाइन का सभी से पालन करने का आह्वान किया है। अररिया के प्रखंड विकास पदाधिकारी आशुतोष कुमार, पूर्व प्रशासनिक पदाधिकारी सह जदयू नेता अल्हाज नसीमुर रहमान, जिला युवा पदाधिकारी कर्मवीर कुमार और शिक्षाविद मु कैश आलम ने दैनिक जागरण के पहल की सराहना की है। इनलोगों ने कहा कोरोना महामारी में जिन लोगों ने अपनो को खोया है उन्हें भगवान सब्र दे। ये ऐसी दर्दनाक मौत थी कि अपनों की मौत पर भी बहुत सारे लोग चाह कर भी जनाजे और अंतिम संस्कार में शामिल नही हो सके ।ऐसे तमाम मृत लोगों के आत्मा की शांति के लिए जागरण विशेष पहल कर उनके लिए श्रद्धांजलि सभा आयोजित कर रही है। पदाधिकारी ने बताया कि कोरोना से मृत हुए लोगों के स्वजन को सरकार चार चार लाख मुआवजा देगी। शिक्षाविद मु कैश आलम ने कहा आज भी जो लोग कोरोना पॉजिटिव हैं उनका बेहतर तरीके से सरकार द्वारा इलाज कराया जाए ।साथ ही कोरोना की तीसरी लहर जिसकी चर्चा हो रही है उसकी तैयारी में सरकार अभी से लग जाए ताकि कोरोना की तीसरी लहर से देश की जनता को बचाया जा सके।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप