कहीं प्रार्थना तो कही की जा रही दुआ

अररिया। देश ही नहीं पूरी दुनिया में वैश्विक महामारी कोरोना से लाखों लोगों की बेवक्त मौत हो गई। मौत भी ऐसी की कइयों ने तो अपने को खोया और अनगिनत लोग अपने स्वजन के अंतिम संस्कार और जनाजे की नमाज तक में शामिल नही हो सके। लोग जैसे तैसे उनका संस्कार कर दिया। ऐसे दैनिक जागरण ने अपनों के इस दर्द को समझा और वैसे तमाम लोगों जिनकी मौत कोरोना से हुई है ऐसे लोगों की आत्मा की शांति के लिए 14 जून को दिन के 11 बजे दो मिनट का मौन रखकर उनके लिए श्रद्धांजलि सभा का आयोजन कर रही है। निश्चित रूप से इस आपदा विपदा के समय जागरण का यह पहल मानवता के लिए एक मिसाल होगा। निर्धारित समय पर जो जहां हैं वहीं दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि देंगे।

जिले के विभिन्न संगठन से जुड़े लोग जिन्होंने कोरोना काल में मानवता की सेवा की है। उनके इस सार्थक प्रयास को भी भुलाया नही जा सकता। अररिया प्रखंड के रामपुर चरघरिया मस्जिद में नमाज के बाद लोगों ने कोरोना से मरे लोगों की मगफेरत के लिए दुआ की। -मौलाना जसीमउद्दीन ने कहा कि लगभग सभी नमाज के बाद कोरोना महामारी को खत्म करने की दुआ की जाती है। छांव फॉउंडेशन अररिया के सचिव जाहिद अनवर और जमाते इस्लामी हिद अररिया के अमीरे मोकामी मु मकसूद आलम ने कोरोना काल में वैसे लोगों के लिए ऑक्सीजन की व्यवस्था की जो जिदगी और मौत से संघर्ष कर रहे थे। छांव फॉउंडेशन और जमाते इस्लामी ने बाजाब्ता फोन नंबर जारी कर जरूरतमंद लोगों तक ऑक्सीजन पहुंचाने का काम किया। इतना ही नही कोरोना काल में लॉक डाउन में गरीबों और जरूरतमंदों को खाने की सामग्री भी उपलब्ध कराया। जिससे लोगो को काफी राहत मिली। साथ ही जागरण के सर्वधर्म प्रार्थना की सराहना की। सभी लोग 14 जून को सर्वधर्म प्रार्थना में दो मिनट का मौन रखकर मृत आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना करे। अल हक एजुकेशनल ट्रस्ट के अध्यक्ष प्रो एमए मुजीब और महिला कल्याण समिति की सचिव सुष्मिता ठाकुर ने भी इस वैश्विक महामारी के दौरान जागरूकता अभियान चलाया बल्कि अपनी संस्था और ट्रस्ट के माध्यम से मास्क ,सेनिटाइजर और साबुन का वितरण भी किया। जागरण का अभियान काफी सराहनीय है। जिला परिषद की पूर्व अध्यक्ष और जिला जद यू की प्रवक्ता शगुफ्ता अजीम और भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष व पार्टी के वरिष्ठ नेता आलोक भगत ने तमाम वैसे लोग जिनकी मौत कोरोना से हुई उनके प्रति श्रद्धांजलि अर्पित की। साथ ही उनके स्वजन जो इस मुसीबत के दौड़ से गुजरे हैं उनको सब्र दे। इनलोगों ने कहा कि दैनिक जागरण द्वारा इस मुसीबत के वक्त कोरोना से मृत लोगो के लिए श्रद्धांजलि सभा का आयोजन करना निश्चित रूप से एक सराहनीय काम है। इन लोगों ने जागरण के इस कार्यक्रम में सभी को शामिल होने का आह्वान किया है।

Edited By: Jagran