अररिया। जिला पार्षद गुलशन आरा पर जोकीहाट बीडीओ उमेश प्रसाद सिंह द्वारा सरकारी कामकाज में बाधा पहुंचाने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज कराई है। इस पर जिला पार्षद नौशाद आलम ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। कहा कि एसडीओ शैलेश चंद्र दिवाकर ने अनुश्रवण समिति की बैठक में कहा था कि जिन इलाके के गरीब लोगों का खाद्य सुरक्षा कार्ड नहीं मिला है ऐसे लोगों का फार्म भरकर आरटीपीएस कराकर दें। एसडीओ के निर्देश पर ही जिप सदसय गुलशन ने गरीब लोगों का फार्म भरकर जमा करने गई थी। इसमें कहां गलत है। यदि बीडीओ से गुलशन आरा ने मदद का आग्रह किया तो बीडीओ ने क्यों नही मदद की। चाहे बीडीओ हो या जनप्रतिनिधि सभी लोग जनसेवा के लिए हैं। जनता का काम ही नही होगा तो ऐसे में जनप्रतिनिधि और न ही प्रशासनिक पदाधिकारी को सम्मान मिलेगा। एसडीओ जैसे वरीय पदाधिकारी के निर्देश का भी पालन जोकीहाट बीडीओ द्वारा नही किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। वहीं गुलशन आरा ने सोमवार को बीडीओ कार्यालय में हुए दु‌र्व्यवहार मामले में बीडीओ के खिलाफ एसपी हृदयकांत को आवेदन देकर कार्रवाई की मांग की है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस