जागरण संवाददाता, अररिया। बिहार विधान सभा में प्रतिपक्ष के नेता व पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार में सीएए, एनपीआर और एनआरसी किसी भी हालत में लागू नहीं होने देंगे। वे शुक्रवार को अररिया कॉलेज स्टेडियम में प्रतिरोध सभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी, अमित साह और नीतीश कुमार सभी एक है। सीएए का समर्थन करने के बाद अब पलटू चाचा कह रहे हैं कि बिहार में एनआरसी लागू नहीं करेंगे। ये सब जाति धर्म में बांटकर वोट की राजनीति कर रहे हैं। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि भाजपाईयों व आरएसएस वाले को अगर डर लगता है तो सिर्फ लालू यादव से। लालू के नाम पर वेलोग ऐसे भड़कते हैं जैसे लाल कपड़ा दिखाने के बाद साढ़ भड़कता है। लेकिन इनलोगों के मंसूबे को कभी भी वे पूरा नहीं होने देंगे। उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का चेहरा बेनकाब हो चुका है वे सिर्फ अल्पसंख्यकों को ढगने का काम कर रहे थे। सीएए पर समर्थन करने के बाद उनका असली चेहरा अब जनता के सामने आ गया है। उन्होंने कहा नीतीश कुमार को बस सत्ता चाहिए। इसी लोभ में वे भाजपा के साथ हो लिए अगर वे इसतरह करते तो आज तेजस्वी भी मुख्यमंत्री होता। लेकिन लालू के पुत्र है देश बांटने वालों का कभी साथ नहीं देंगे और इसके लिए अगर पचासों बार कुर्सी को लात मारना पड़े तो मारेंगे। आम जनता, गरीब, मजबूर व अल्पसंख्यकों की आवाज को दबने नहीं देंगे। उन्होंने मंच से उपस्थित लोगों से नारे लगवाए भाजपा भगाओ, देश बचाओ। उन्होंने कहा कि लालू जी ने इसी नारा को देकर भाजपा को सत्ता में नहीं आने दिया था। इस मौके पर राज्यसभा सांसद असफाक करीम, बिधानसभा के पूर्व सभा पति उदय नारायण चौधरी, जोकीहाट विधायक शहनवाज आलम आदि कई पूर्व सांसद व विधायक ने भी सभा को संबोधित किया।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस