जागरण संवाददाता, अररिया: जिले में एक बार फिर ठंड ने दस्तक दे दी। दो दिनों से धूप निकलने से थोड़ी राहत मिली तो रविवार को मौसम अचानक परिवर्तन हुआ। रविवार को सुबह से सूर्य भगवान के दर्शन नहीं हुए। हल्की दिन भर बारिश होती रही। ठंड अचानक बढ़ गई है। कुहासा छाया हुआ था। ठंड से लोगों को राहत नहीं मिल रही है। किसी तरह आग जलाकर राहत पाने की कोशिश कर रहे हैं। शहर के हर चौक चौराहों पर लोग अलाव जला रहे हैं। जैसे ही शाम होता है लोग अपने अपने घरों में चले जाते हैं।

संसू, परवाहा के अनुसार प्रखंड क्षेत्र में दो दिन धूप खिलने के बाद एक बार फिर मौसम ने बदली करवट। लगातार बढ़ रही ठंड के बीच शुक्रवार व शनिवार को धूप खिलने से जहां लोगों ने राहत की सांस ली थी एकबार फिर बारिश के बाद पछुआ हवा ने लोगों को आफत में डाल दिया ।ठंड व कनकनी से बचने के लिए लोग अलाव को अपना सहारा बना लिया है।इस हाड़ कंपा देने वाली ठंड में लोग जैसे तैसे अलाव की व्यवस्था कर रहे हैं लेकिन अभी भी सार्वजनिक जगहों पर सरकारी स्तर से कोई व्यवस्था नही हो पाया है। परवाहा के मुखिया प्रतिनिधि पुण्यानन्द मण्डल ने बताया कि ठंड के कारण लोगों की मुश्किलें बढ़ गई है।सार्वजनिक जगहों पर अबतक अलाव की कोई व्यवस्था नही है।ऐसे में राहगीरों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है।चौक चौराहों पर अलाव की मांग:मुखिया परमानन्द ऋषि,अजित चक्रवर्ती ,मनीष राज,सदानन्द मेहता, जनार्दन यादव,सुभाष मिश्र ,पैक्स अध्यक्ष रामचन्द्र सिंह,रंजित शर्मा ,सुधेश आनन्द आदि ने बढ़ती शीतलहर को देखते हुए प्रसाशन से सभी चौक चौराहों पर अलाव की व्यवस्था की मांग किया। संसू ,कुर्साकांटा के अनुसार विगत एक सप्ताह से बढ़ती जा रही भीषण ठंड लोगों के लिए परेशानी का सबब बन गया है। ठंडी हवा का चल रही ठंडी बयार रूह को कंपा देने वाली हवा ने जहां ठंड को बढ़ाता जा रहा है तो दूसरी तरफ रविवार को सुबह से ही चल रही ठंडी हवा ने आमजनों को ठिठुरने को मजबूर कर दिया । उसपर बूंदाबादी पानी लोगों को घर मे दुबकने पर मजबूर कर दिया । हवा के झोंके के साथ चल रही हवा से ठिठुरन वाली ठंड को लेकर सबसे अधिक बूढ़े व छोटे छोटे बच्चे परेशान हो रहे हैं। आमजन देर सुबह तक अपने घरों में या फिर अलाव के पास ही रहना वाजिब समझा । जिससे प्रखंड क्षेत्र की सड़कें सुनसान व बाजार में भी दोपहर तक अमूमन लोगों का आवागमन कम ही रहा । दिनभर लोगों को धूप का दर्शन नही हो सका । वहीं जारी ठंढ से रब्बी फसल को लेकर किसानों के बीच भी फसल की देखरेख समेत पटवन व अन्य खेती सम्बंधी कार्यों के निष्पादन में भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है । इधर बढ़ रही ठंड को लेकर प्रशासन द्वारा सार्वजनिक जगहों पर अलाव की व्यवस्था नहीं किये जाने से भी लोगों में आक्रोश व्याप्त है ।ई आमजनों ने ठंड की बढ़ती रफ्तार को लेकर प्रशासन से सार्वजनिक जगहों समेत चौक चौराहे पर अलाव की व्यवस्था करने की मांग की है ।

Edited By: Jagran