अररिया [जेएनएन]। देवरिया बाड़ीहाट में रविवार सुबह संपत्ति के लालच में दो सगे भाइयों ने अपनी बहन सरीफा की रॉड से प्रहार कर हत्या कर दी। इन्होंने सरीफा के साथ रह रही अपनी छोटी बहन जुलोसन खातून को भी मारने का प्रयास किया, लेकिन वह भाग निकली। इस काम में दोनों भाइयों का साथ उनके ससुर व पत्नी के भाइयों ने भी दिया। 

मृतका की बहन जुलोसन के बयान पर दोनों भाइयों के अलावा आठ लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। पुलिस के समक्ष जुलोसन ने बताया कि उनकी बड़ी बहन सरीफा की पहली शादी गांव में ही हुई थी। शादी के कुछ दिन बाद ही पति ने उसे छोड़ दिया था। इसके बाद सरीफा की शादी जलालगढ़ के मकियारपुर गांव में हुई। इस शादी से उसे एक पुत्र भी हुआ।

दो साल बाद दूसरे पति ने भी उसे तलाक दे दिया। तीन-चार साल पूर्व उसकी तीसरी शादी कटिहार जिले के काढ़ागोला में हाजी सज्जाद के साथ हुई, लेकिन हाजी पूर्व से शादीशुदा थे। इसलिए पहली पत्नी और उसके बच्चे इस शादी का विरोध कर रहे थे। इस विरोध को देखकर हाजी अपनी सरीफा को लेकर देवरिया गांव आ गए और पांच बीघा जमीन खरीदकर यहीं जीवनयापन करने लगे।

हाजी ने एक  ट्रैक्टर व बाइक भी खरीदी। दो साल पूर्व बीमारी से हाजी की भी मौत हो गई। इसके बाद सरीफा चौथी शादी करने की तैयारी कर रही थी। इस शादी की जानकारी मिलने के बाद सरीफा के दोनों भाई उसकी जान के दुश्मन हो गए। दोनों ने पहले ट्रैक्टर व बाइक अपने नाम कराई। चार-पांच दिन पूर्व जमीन हड़पने के लिए इन्होंने एक सादे कागज पर सरीफा के दस्तखत भी ले लिए थे।

यह भी पढ़ें: बिहार के इस इलाके में मात्र पांच हजार रूपये में बिक जाते हैं बच्चे, जानिए

दर्ज प्राथमिकी में भाई सरीफ, सफीक, भाई के ससुर अब्दुला, आयस, महबूब, फिरोजा, इसराफिल व तौआब को आरोपित बनाया गया है। इससे पूर्व घटना की सूचना पर डीएसपी कुमार देवेंद्र सिंह ने एसएचओ रमेशकांत चौधरी के साथ पहुंचकर शव को पोस्टमॉर्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। फिलवक्त सभी आरोपित फरार हैं। डीएसपी के अनुसार जल्द ही सभी आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: गाय को सड़क से हटाने के लिए हॉर्न बजाया, तो फोड़ दी आंख

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप