अररिया। एनएच वालों की उदासीन रवैये के चलते गड्ढों में तब्दील भारत-नेपाल अंतरराष्ट्रीय सड़क पर स्थित जोगबनी में कभी भी बडी हादसा हो सकता है। विभाग को कई बार स्थानीय लोगों द्वारा इस दिशा में ध्यान आकृष्ट कराया गया लेकिन एनएच की हालत पर ध्यान नहीं दिया गया। इस बाबत जोगबनी नगर पंचायत की अध्यक्षा अनिता देवी ने कहा कि बदहाल एनएच के चलते कभी भी बड़ी घटना से इनकार नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि इस संबंध में जिलाधिकारी को पत्र लिखकर स्थिति की गंभीरता से अवगत कराया गया है लेकिन अभी तक इस दिशा में उचित कार्रवाई नहीं की गई है। उन्होंने कहा की स्थिति की गंभीरता को देखते हुए नगर पंचायत द्वारा गड्ढों में े ईट का टुकडा डाला गया है, इसके बावजूद एनएच के अधिकारी उदासीन बने हुए हैं। इससे पहले उन्होंने नगर के अंदर बुनियादी सुविधाओं पर चर्चा करते हुए जानकारी दी कि सात निश्चय के अंतर्गत हर घर नल का जल, पक्की गली-नाली के अलावा शौचालय निर्माण, प्रधानमंत्री आवास योजना, राशन कार्ड, पेंशन जैसी योजनाओं की लगातार समीक्षा की जा रही है। उम्मीद है कि हर घर नल का जल और पक्की गली-नाली जैसी बुनियादी आवश्यकताएं हर घर तक 2020 तक उपलब्ध करा दी जाएगी।

Posted By: Jagran