संसू, सिकटी(अररिया): सिकटी के पोठिया गांव में विगत बुधवार की रात गला काटकर महिला की हत्या मामले को लेकर रविवार को एसडीपीओ अररिया पुष्कर कुमार ने घटनास्थल पर जांच की। मौके पर सिकटी थानाध्यक्ष हरेश तिवारी, बरदाहा थाना के सअनि हीरा लाल मंडल व पुलिस बल उपस्थित थे।

एसडीपीओ ने मृतका जालेश्वरी देवी की हत्या मामले में सूचक बनी उसकी मां सालवती देवी से पूछताछ की। फिर मृतका के ससुर महाजन ततमा सास डोमनी देवी से पूछताछ कर घटना के बारे जानकारी ली। घटना की रात मृतका के साथ सोये उसके बेटे सुजीत कुमार से जब पूछा तो उसने बताया कि देर रात जब पेशाब लगने पर जगा तो मां बिछावन पर नहीं थी। तब बगल के कमरे में सोये नानी को जगाकर बताया कि बिछावन पर खून लगा है और मां नही है। मृतका की मां ने बताया कि जब उसे छोटा नाती कहा कि मृतका घर में नही है तब जाकर लोगो को बताए। फिर जब लोग सब आए तो खोज बीन करने पर घर से पूरब गड्ढे में मृतका का शव बरामद हुआ। घटना के चार दिन बाद भी पुलिस हत्यारे की तलाश में लगातार पूछताछ कर रही है। शक के आधार पर हत्या मामले के नामजद आरोपित तीनो ननदोसी मिथिलेश ततमा,मनोज ततमा एवं संतोष ततमा से बार बार पूछताछ कर जानकारी ले रही है। सिकटी थानाध्यक्ष हरेश तिवारी के मुताबिक ठोस साक्ष्य मिलने पर ही आरोपित पर कार्रवाई की जाएगी। सभी नामजद से पुलिस लगातार पूछताछ कर रही है। इधर बाहर कमाने गए मृतका के पति प्रकाश ततमा शनिवार को घर लौटकर आ गए। उसने रविवार को बरदाहा थाना में एसडीपीओ पुष्कर,बरदाहा थानाध्यक्ष राजेश कुमार रंजन के सामने बार बार अपने पड़ोसी पोठिया के ही संतोष शर्मा पर पत्नी की हत्या का आरोप लगाकर मामले को एक नया मोड़ पर लाकर खड़ा कर दिया।हालांकि इससे पहले से ही पुलिस संतोष ततमा से बराबर पूछताछ कर रही है।संतोष ततमा के घर के पीछे के गड्ढे से ही मृतका जालेश्वरी देवी का शव बरामद हुआ था।पुलिस इस उलझन मे किसी ठोस साक्ष्य के मिलने की दिशा मे अनुसंधान कर रही है। इस घटना में मुख्य रुप से घर के नजदीकी लोग के शामिल होने से इंकार नहीं किया जा सकता है। पारिवारिक हालात ये बता रही है महिला की हत्या कर शव को बगल में छुपाने में स्थानीय लोग ही शामिल हो सकते है। पुलिस सभी पहलुओं पर बारीकी से जांच अनुसंधान कर रही है। जल्द ही हत्यारे पुलिस की गिरफ्त में होंगे।

पुष्कर कुमार एसडीपीओ, अररिया।

Edited By: Jagran