संवाद सूत्र, फुलकाहा (अररिया): अररिया जिला मुख्यालय के कृषि बाजार समिति परिसर स्थित मतगणना केंद्र पर शुक्रवार को चाक-चौबंद विधि व्यवस्था के बीच नरपतगंज के 25 पंचायतों की मतगणना संपन्न हो गई। इस दौरान मतगणना केंद्र पर भारी संख्या में पुलिस बल महिला पुलिस एवं बीएमपी के जवान सुरक्षा व्यवस्था में लगाए गए थे। मतगणना केंद्र के चारों ओर बैरिकेडिग लगाया गया था ताकि अनाधिकार कोई भी पक्ष मतगणना केंद्र पर मतगणना केंद्र के भीतर नहीं जा सके केवल पास निर्गत लोगों को हीं मतगणना केंद्र के अंदर जाने का आदेश दिया गया था। बैरिकेडिग के बाहर हजारों की संख्या में उम्मीदवारों के समर्थक एवं आम ग्रामीण उत्सुकता बस मतगणना की स्थिति का जायजा ले रहे थे। साथ हीं हार जीत का विश्लेषण भी कर रहे थे। फारबिसगंज अररिया नेशनल हाईवे पर टोल टैक्स के निकट की समर्थकों एवं उम्मीदवारों का वाहन पुलिस के द्वारा रोका जा रहा था ताकि मतगणना स्थल पर भीड़ नहीं लग सके इसके लिए भी पुलिस पूरी तरह सक्रिय रहे। कृषि बाजार समिति के मेन गेट पर पुलिस प्रशासन के द्वारा गणना अभिकर्ता और निर्वाचन अभिकर्ता का मोबाइल या अन्य कोई सामान अंदर नहीं नहीं ले जाने दे रहे थे। सभी का मोबाइल एवं अन्य सामानों को बाहर में हीं रखने का आदेश दिया गया था। गहन छानबीन के बाद ही गेट के अंदर प्रवेश करने दिया जाता था। सुरक्षा व्यवस्था को लेकर सभी को मेटल डिटेक्टर से होकर सबको गुजरना पड़ा। मतगणना स्थल पर सुरक्षा के चाक चौबंद व्यवस्था किया गया था। प्रवेश द्वार पर भी बड़ी संख्या में पुलिस बल महिला पुलिस कि तैनाती की गई थी। मतगणना स्थल पर अररिया डीएसपी पुष्कर कुमार, फारबिसगंज डीएसपी रामपुकार सिंह, मुख्यालय डीएसपी सुबोध कुमार व्यवस्था को लेकर लगातार गश्ती करते नजर आए। इस दौरान अररिया एसडीपीओ पुष्कर कुमार ने मतगणना स्थल पर मौजूद पुलिस कर्मी को कई तरह के आवश्यक दिशा निर्देश दिए। मतगणना स्थल के सभी प्रवेश द्वार पर मेटल डिटेक्टर सहित सुरक्षा कर्मी मौजूद रहे। सभी मुख्य मार्ग पर पुलिस बल एवं महिला पुलिस बल तैनात थे। वहीं मतगणना स्थल पर जिलाधिकारी प्रशांत कुमार सीएच एवं एसपी हृदय कांत खुद मानिटरिग कर रहे थे। मतगणना के दौरान कोरोना काल के निर्देश की अवहेलना होते देखी गई। मास्क एवं शारीरिक दूरी का कहीं भी पालन होते नहीं दिखा। अधिकतर पुलिसकर्मी एवं विभागीय अधिकारी भी बिना मास्क के दिखे। चारों ओर शोर शराबा का आलम था तो कहीं पटाखे भी छूटने लगे और कहीं रंग गुलाल लोग एक दूसरे के बीच जमकर होली मनाया। मतगणना के दौरान अररिया जिला पदाधिकारी एवं पुलिस कप्तान लोगों को समझाते बुझाते नजर आए और आदर्श नागरिक होने का हवाला देते हुए शांति व्यवस्था में सहयोग करने की अपील की। जिला पदाधिकारी प्रशांत कुमार सीएच एवं एसपी हृदय कांत ने लगातार मतगणना हाल का निरीक्षण करते रहे। जिला पदाधिकारी ने कहा कि जो प्रत्याशी विजय घोषित हुए हैं वह जुलूस नहीं निकाले अगर ऐसे करेंगे तो उस पर कार्रवाई की जाएगी। कहा विजय जुलूस निकालने से दूसरी पक्ष के समर्थकों विवाद भी उत्पन्न हो सकता है इसलिए विजय प्राप्त उम्मीदवार विजय जुलूस नहीं निकाले।

Edited By: Jagran