बड़ी संख्या में नेपाली महिलाओं ने भी लिया हिस्सा

कड़ी सुरक्षा के थे कड़े प्रबंध

जय श्री राम के नारों से गुंजायमान हुआ फुलकाहा

फोटो नंबर 17 एआरआर 06 व 07

कैप्शन: कोशी नहर में सामूहिक संकल्प दिलाते आचार्य व कलश यात्रा में शामिल महिलाएं

संवाद सूत्र, फुलकाहा (अररिया): भारत नेपाल सीमा से सटे फुलकाहा बाजार स्थित सार्वजनिक दुर्गा मंदिर परिसर में संगमरमर की बजरंगबली की प्रतिमा स्थापित व प्राण प्रतिष्ठा को लेकर बुधवार को 2100 कुमारी कन्याओं व महिलाओं की विशाल कलश यात्रा निकाली गई। अहले सुबह से हीं गेरूवा एवं लाल वस्त्र धारण कर कलश में जल भरने के लिए कोशी नहर स्थित चंदा साइफन के निकट महिलाएं पहुंची। दरभंगा से आए आचार्य धीरेंद्र नाथ झा द्वारा सामूहिक संकल्प कराया गया। इसके बाद महिलाएं कलश में जल भरकर कतार में मंदिर पहुंची। पुलिस एवं ग्राम रक्षादल की चाक चौबंद व्यवस्था रही। कलश यात्रा के साथ नरपतगंज की पूर्व भाजपा विधायक देवयंती यादव, जदयू जिलाध्यक्ष आशीष पटेल, कमेटी के अध्यक्ष शिवजी प्रसाद साहा, देवाशीष रक्षित, ब्रजकिशोर राम, उमा प्रसाद साह, श्यामदेव यादव, श्रवण दास, सुभाष यादव, शंकर सिंह, रंजीत ठाकुर, बबलू सिंह, महेश गुप्ता, संतोष साह, रितेश साह छोटू, मुन्ना ठाकुर, राजा शर्मा, संतोष गुप्ता, राजा शर्मा सहित सैकड़ों स्थानीय गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे । फुलकाहा थानाध्यक्ष हरेश तिवारी सहित दर्जनों पुलिस जवान मौजूद थे। चौक चौराहे एवं बाजार में मुफ्त शरबत एवं पेयजल की व्यवस्था की गई थी । वहीं नेपाल के देवानगंज के डॉ श्यामदेव, डॉ कफील अहमद ने मुफ्त चिकित्सा एवं दवा की व्यवस्था की। कलश यात्रा 11 बजे मंदिर परिसर पहुंचा। कलश लिए महिलाओं ने प्रतिमा की परिक्रमा की। इसके साथ हीं मंदिर में हवन यज्ञ शुरू हुआ। आयोजक ने बताया कि प्राण प्रतिष्ठा हवन यज्ञ अष्टयाम संकीर्तन एवं जागरण का भव्य कार्यक्रम तय किया गया। कलश यात्रा के दौरान लोग जय माता दी, जय श्री राम, जय जय श्रीराम ,हर हर महादेव ,धर्म की जय हो, का नारा लगाते चल रहे थे। कलश यात्रा के साथ आगे आगे घुड़सवारी एवं बैंड बाजा बजाते चल रहे थे। कलश यात्रा लगभग 15 किलोमीटर दूरी तय कर मंदिर पहुंचा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप