फोटो नंबर 17 एआरआर 01 व 02

कैप्शन:

तेरापंथ भवन से महावीर जयंती पर निकली प्रभातफेरी

ज्ञानशाला की वार्षिक परीक्षा में शामिल ज्ञानार्थियों को किया गया पुरस्कृत

जासं, अररिया: जैन धर्म के 24 वें तीर्थंकर भगवान महावीर स्वामी की जयंती बुधवार को तेरापंथ भवन अररिया में धूमधाम से मनाई गई। इस अवसर पर प्रभातफेरी निकाली गई। इसके अलावा ज्ञानशाला कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया जिसमें सफल हुए ज्ञानार्थियों को पुरस्कृत किया गया।

महावीर जयंती के अवसर पर तेरापंथ भवन अररिया से जैन समाज के लोगों ने भव्य प्रभातफेरी निकाली जो शहर के मुख्य मार्गों से होकर अपने निर्धारित स्थल तेरापंथ भवन जाकर संपन्न हुआ। प्रभातफेरी में काफी संख्या में जैन समाज के लोग शामिल हुए। इस अवसर पर उपस्थित लोगों ने भगवान महावीर के बताए मार्ग पर चलने का संकल्प लिया। बुद्धिजीवियों ने बताया कि भगवान महावीर ने विश्व को अहिसा का संदेश दिया। विश्व में बढ़ रहे तनाव व युद्ध को रोकने के लिए भगवान महावीर के आदर्शों पर चलना आवश्यक है। वहीं प्रभातफेरी में शामिल बच्चे व युवाओं ने महावीर के संदेशों को घर घर तक पहुंचाएं एवं संयममय जीवन हो, सादा जीवन उच्च विचार आदि के नारे लगाते हुए चल रहे थे।

महावीर जयंती पर ज्ञानशाला कार्यक्रम का शुभारंभ जैन श्वेतांबर तेरापंथी सभा में हुआ जहां अध्यक्ष सागरमल चिडालिया ने नवकार महामंत्र से की जबकि मंगलाचरण ज्ञानाशाला की प्रशिक्षिका ने प्रस्तुत किया। कन्या मंडल द्वारा गीत पेश किया गया । कार्यक्रम में चैतिका दुग्गड़, कविता बोथरा, माला छाजेड़, संतोष देवी दुग्गड़, कल्पना चिडालिया, खुशी छाजेड़ अजय बैद, सुनील हिरावत, नवरत्न जी हिरावत, विकास चिडालिया आदि ने महावीर स्वामी के जीवन दर्शन पर अपने विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम का संचालन प्रदीप चौरड़िया ने किया। ज्ञानशाला दिवस के अवसर पर रंगारंग कार्यक्रम पेश किए गए। वहीं ज्ञानशाला की वार्षिक परीक्षा में शामिल हुए ज्ञानार्थियों को तेरापंथी सभा द्वारा पुरस्कार वितरण किया गया। संचालन तेरापंथ सभा के मंत्री सह ज्ञानशाला संयोजक सचिन दुग्गड़ ने किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में तेरापंथी सभा, महिला मंडल, तेयुप, कन्या मंडल, किशोर मंडल, अणुव्रत समिति एवं ज्ञानशाला के सदस्यों ने अहम भूमिका निभाई।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप