नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। भारत में इलेक्ट्रिक स्कूटर्स को काफी पसंद किया जा रहा है। दरअसल ये वन टाइम इन्वेस्टमेंट की तरह होते हैं। हालांकि कई बार ग्राहकों की ये शिकायत होती है कि इलेक्ट्रिक स्कूटर कंपनी के दावे के अनुसार रेंज नहीं दे रहा है। ऐसे में जो दिक्कत है वो स्कूटर में नहीं बल्कि कई बार राइडिंग स्टाइल में होती है। दरअसल हर राइडर अलग तरीके से इलेक्ट्रिक स्कूटर राइड करता है। ऐसे में कई बार राइडर से कुछ गलतियां भी हो जाती हैं जिनकी वजह से रेंज कम हो जाती है। आज हम आपको इलेक्ट्रिक स्कूटर की रेंज बढ़ाने के कुछ आसान से टिप्स देने जा रहे हैं जो हमेशा काम आते हैं।

सर्विसिंग

अगर आप अपने इलेक्ट्रिक स्कूटर की सर्विसिंग समय से नहीं करवाते हैं तो ऐसा करना आपके स्कूटर की बैटरी के लिए भारी पड़ सकता है। ‌ दरअसल स्कूटर की बैटरी को समय-समय पर सर्विसिंग की जरूरत पड़ती है ऐसे में इसे नजरअंदाज ना करें।

मौसम से बचाव है जरूरी

अगर आप अपने स्कूटर को खुले में पार्क करते हैं तो ऐसा करने से बचना चाहिए दरअसल सर्दियों के मौसम में या ज्यादा गर्मी के मौसम में स्कूटर को बाहर पाठ करने से इसकी बैटरी पर असर पड़ता है जिससे रेंज में कमी आ सकती है ऐसे में कोशिश करें कि अपने स्कूटर को छायादार जगह पर पाक करें या फिर इस पर कोई कवर लगाकर रखे जिससे मौसम का असर इस पर ना पड़े।

ओवरलोडिंग

इलेक्ट्रिक स्कूटर की मोटर भले ही पावरफुल होती है लेकिन अगर इस पर ज्यादा दबाव पड़े तो इससे स्कूटर की रेंज प्रभावित होती है दरअसल इलेक्ट्रिक स्कूटर पर अगर ज्यादा लोग बैठ जाएं तब चलने के लिए इसे ज्यादा बैटरी कंज्यूम करनी पड़ेगी जिसकी वजह से रेंज अपने आप कम हो जाती है ऐसे में ओवरलोडिंग से बचें।

स्पीड रखें इकॉनमी पर

अगर आप स्कूटर चलाते समय इसकी स्पीड को इकॉनमी मोड तक रखते हैं तब तो यह अच्छी खासी रेंज देने में सक्षम होगी लेकिन अगर आप इसे ज्यादा रफ्तार पर चला रहे हैं तो यह मान कर चलिए कि यह स्कूटर आधी से भी कम रेंज देगा। स्कूटर को ज्यादा स्पीड में चलाने से ज्यादा बैटरी खर्च होती है और रेंज अपने आप ही कम हो जाती है।

Edited By: Vineet Singh