नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। जिस तरह से दिन-प्रतिदिन व्हीकल्स एडवांस होती जा रही हैं, ठीक उसी तरह टायर्स में भी काफी बदलाव देखे जा रहे हैं। क्योंकि, अब गाड़ी मालिकों को लॉन्ग ड्राइव के लिए व्हीकल खरीदनी होती है और उनकी अच्छी माइलेज की डिमांड होती है। इसलिए, टायर बनाने वाली कंपनी का फोकस प्रीमियम टायरों पर जो बेहतरीन मटेरियल की बनी होंती हैं। इसी क्रम में आज कॉन्टिनेंटल टायर ने पूरी तरह से देश बनी अपनी टायर को लॉन्च कर दिया है।

20 फीसदी बढ़ जाएगी माइलेज

इन टायरों को पैसेंजर व्हीकल और प्रीमियम एसयूवी यूजर्स को नजर में रखते हुए बनाया है, चूंकि प्रीमियम गाड़ियों की टॉप स्पीड अधिक होती है, इसलिए इस टायर को अन्य टायरों की तुलना में एडवांस बनाया गया है। जो 20 फीसद तक की माइलेज बढ़ाने का काम करती हैं। कंपनी का दावा है कि इन टायरों का इस्तेमाल करने से गाड़ियों की कम से कम 20 फीसद माइलेज बढ़ जाती है।

मेड इन इंडिया प्रोडक्ट

कंपनी ने भारत सरकार के 'मेक इन इंडिया' कार्यक्रम का समर्थन करते हुए इस प्रोडक्ट को लॉन्च किया है। कॉन्टिनेंटल टायर्स इंडिया प्रीमियम सेडान और एसयूवी के लिए 19-इंच और 20-इंच के रिम साइज आर्टिकल बनाती है। कंपनी का कहना है टायर बनाने के लिए जरूरी मैटेरियल को इंपोर्ट किया गया।

भारतीय बाजार में एसयूवी टायरों की बढ़ी डिमांड

आपको जानकारी के लिए भारतीय पैसेंजर व्हीकल सेगमेंट में पिछले कुछ वर्षों में एसयूवी टायरों की मांग में वृद्धि देखी गई है, जबकि कॉमर्सियल व्हीकल सेगमेंट में गाड़ी मालिक ऐसे समाधान तलाश रहे हैं जो वन स्टॉप सोल्यूशन हो, जहां गाड़ी के टायरों के परफॉर्मेंस की निगरानी हो सके। इसी को देखते हुए कॉन्टिनेंटल ने टायरों के लिए वन स्टॉप सोल्यूशन भी लेकर आया है, जहां टायरों के परफॉर्मेंस को ट्रैक किया जा सकता है।

Edited By: Atul Yadav

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट