नई दिल्ली, श्रीधर मिश्रा। आज हम आपको एक ऐसे इंधन के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे हम Ethanol नाम से जानते हैं। इसकी अहमियत का अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि Ethanol का लोहा PM Narendra Modi और उनकी सरकार ने भी माना है। अब आप सोच रहे होंगे कि ये Ethanol है क्या? और इसकी जरुरत आपको क्यों है? दरअसल हाल ही में Narendra Modi सरकार के परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने TVS Apache RTR 200 4V FI Ethanol बाइक को लॉन्च किया, जो पेट्रोल से नहीं बल्कि Ethanol से चलती है। ऐसे में आज हम आपको बताएंगे कि क्यों Ethanol देश और भारतीय किसानों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। इसके अलावा यह भी जानेंगे कि यह पेट्रोल से कितनी सस्ती है और इससे पर्यावरण को कितना फायदा है।

गाड़ी को मिलती है ज्यादा ताकत

पेट्रोल के मुकाबले Ethanol से चलने वाली गाड़ी का इंजन ज्यादा पावर देता है। (केवल तब जब इंजन एक बराबर हो)

गाड़ी की Heating में आती है कमी

Ethanol में अल्कोहल जल्दी उड़ जाता है, जिसके चलते इसमें Heating की परेशानी बहुत कम आएगी। यानी Ethanol से चलने वाली गाड़ी पेट्रोल के मुकाबले बहुत कम गर्म होती है।

पेट्रोल के मुकाबले सस्ता है Ethanol

Ethanol करीब 50 से 55 रुपये प्रति लीटर मिलेगा। हालांकि, ये पेट्रोल के मुकाबले आपको कम माइलेज देगा, लेकिन फिर भी आपको अच्छी-खासी बचत होगी।

पर्यावरण का दोस्त है Ethanol

Ethanol से चलने वाली गाड़ी Sulphur Dioxide, Nitrogen Dioxide और Carbon Mono oxide जेनरेट नहीं करती है जिससे पेट्रोल के मुकाबले इसमें प्रदूषण न के बराबर होता है।

गन्ने से बनता है Ethanol

Ethanol की सबसे बड़ी खासियतों में से एक इसका गन्ने से बनना है।

गल्फ देशों के सहारे नहीं रहेगा भारत

Ethanol गन्ने से बनता है। इससे इसे भारत में कहीं भी बनाया जा सकता है। यानी भारत को Ethanol के लिए गल्फ देशों की तरफ नहीं देखना पड़ेगा।

किसानों के लिए वरदान है Ethanol

Ethanol से भारत के किसानों को सबसे ज्यादा फायदा होगा। दरअसल Ethanol गन्ने से बनता है। इससे में यह भारत में बनेगा। इसे चीनी मीलों या उन जगहों पर बनाया जाएगा जहां गन्ने की खेती ज्यादा होती है। यानी जहां एक और पेट्रोल से फायदा बड़ी तेल कंपनियों या दूसरे को होता है, तो वहीं, Ethanol के इस्तेमाल से भारत के किसानों को सबसे ज्यादा फायदा होगा।

भारत सरकार का बचेगा पैसा

बता दें कि भारत हर साल करीब 1 लाख 70 हजार करोड़ रुपये का क्रूड ऑयल इंपोर्ट करता है, जिसका पैसा बड़ी कंपनियों और गल्फ देशों के खाते में जाता है। ऐसे में Ethanol के इस्तेमाल से भारत का पैसा बचेगा और किसानों को भी फायदा होगा।

सड़क हादसों में इस गलती से होती है सबसे ज्यादा मौत, ये हैं 5 बड़े कारण

10 गुना ज्यादा कटेगा चालान, कार मालिक के खिलाफ होगा केस- क्या है Modi 2.0 का प्लान?

ट्रैफिक नियम तोड़ने पर कटेगा 5 गुना चालान, बिना Helmet और Seat Belt लगेगा इतना जुर्माना

ट्रैफिक पुलिस पेड़ या खंबे के पीछे छिप कर क्यों काटती है चालान? ये है कार

Posted By: Shridhar Mishra