नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। महिंद्रा स्कॉर्पियो अपनी विश्वसनीयता और लंबी उम्र के लिए काफी लोकप्रिय है। भारत में कई लोगों ने पावरट्रेन के साथ बिना किसी बड़ी समस्या के एसयूवी में हजारों किलोमीटर की दूरी तय की है। यही वजह है कि कंपनी ने बिना कन्फ्यूज किए स्कॉर्पियो को अपडेट करके स्कॉर्पियो क्लासिक नाम से भारतीय बाजार में पेश किया है। वहीं स्कॉर्पियो-एन को भी बीते 27 जून को इंडियन मार्केट में लॉन्च किया गया है। इसलिए आपको कन्फ्यूज होने की जरूरत नहीं है। इसके पहले आपको स्कॉर्पियो-एन के बारे में डिटेल में जानकारी दी गई थी अब स्कॉर्पियो क्लासिक की बारी है।

जैसा कि हम सब जानते हैं नई महिंद्रा स्कॉर्पियो-एन 27 जून, 2022 को भारत में अपना विश्व प्रीमियर किया था। उस दौरान कंपनी ने वर्तमान पीढ़ी के मॉडल को बंद नहीं करने की बात कही थी। कंपनी ने कहा था कि स्कॉर्पियो के पुराने मॉडल को स्कॉर्पियो क्लासिक के रूप में बेचा जाएगा। इसलिए कंपनी ने हाल ही में इस गाड़ी को नया अपडेट करके इंडियन मार्केट में पेश कर दिया है।

क्यों पेश किया गया स्कॉर्पियो क्लासिक?

पुराने स्कॉर्पियो को 5 अलग-अलग ट्रिम में पेश किया गया था। इसमें आपको S3 प्लस, S5, S7, S9 और S11 देखने को मिलते हैं, लेकिन नई स्कॉर्पियो क्लासिक में बाकी ट्रिम्स को हटाते हुए केवल 2 ट्रिम्स, S और S11 को पेशकिया गया है।

जानें कितना बदल गई है स्कॉर्पियो

नई स्कॉर्पियो क्लासिक में आपको फीचर्स की बहुत बड़ी लिस्ट मिलती है। टॉप स्पेक S11 में बॉडी-कलर्ड बंपर और डोर हैंडल के साथ-साथ स्मार्टफोन स्क्रीन मिररिंग के साथ 9 इंच टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम जैसे फीचर्स के साथ आता है। इसके अलावा मॉडल को 16GB की इंटरनल स्टोरेज, डुअल-टोन ब्लैक और बेज थीम भी दिया गया है। लग्जरी फीचर्स में वुड ट्रिम्स, फ्रंट और रियर आर्म-रेस्ट, ऑटोमैटिक क्लाइमेट कंट्रोल, क्रूज़ कंट्रोल को देखा जा सकता है।

स्कॉर्पियो को क्यों मिल रहा इतना अटेंशन

महिंद्रा स्कॉर्पियो को खरीदने का प्रमुख कारण इसकी मस्कुलर अपील, एंबेडनेस और भारत में लगभग सभी प्रकार के इलाकों में चलाने लायक इसका पॉवरट्रेन और व्हील क्वालिटी है। इसमें 2.2-लीटर का एमहॉक डीजल इंजन दिया गया है, जो 120bhp की मैक्सिसम पॉवर जेनरेट करती है।

Edited By: Atul Yadav