नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। इलेक्ट्रिक वाहनों की डिमांड में बढ़ोतरी देखते हुए कई वाहने निर्माता इलेक्ट्रिक ऑटो इंडस्ट्री की तरफ रुख कर रहे हैं। इस लाइन में न केवल वाहन निर्माता कंपनी, बल्कि स्मार्टफोन की दिग्गज कंपनियां भी इलेक्ट्रिक इंडस्ट्री में अपना हाथ अजमा रही हैं। इसी क्रम में चीनी स्मार्टफोन निर्माता कंपनी वीवो ने इलेक्ट्रिक व्हीकल्स के लिए ट्रेडमार्क फाइल की है।

ट्रेडमार्क किया फाइल

Vivo ने ऑटोमोटिव कैटेगरी में अपना ट्रेडमार्क फाइल किया। हालांकि, वीवो के ट्रेडमार्क स्टेटस पर फिलहाल Opposed नजर आ रहा है। वीवो की तरफ से उसके आगामी प्रोजेक्ट से जुड़ी कोई भी ऑफिसियल जानकारी नहीं मिल पाई है, लेकिन कयास लगाया जा रहा है कि वीवो जल्द ही इसकी घोषणा करेगा। बता दें, कंपनी ने क्लास 12 के तहत ट्रेडमार्क फाइल किया है, जिसके अंतर्गत कई प्रकार के सेवाएं और सामान शामिल हैं।

क्लास 12 में क्या-क्या आता है

क्लास 12 कैटेगरी में कई प्रकार के प्रोडक्ट शामिल होते हैं। उदाहरण के तौर पर, इसमें इलेक्ट्रिक व्हीकल, कार, मोटरसाइकिल, ड्राइवरलेस कार (ऑटोनोमस कार), मोपेड, सेल्फ बैलेंसिंग वीइकल्स, यूनिसाइकिल, सेल्फ बैलेंसिंग यूनिसाइकिल, वाटर व्हीकल, एयर व्हीकल, एरियल ड्रोन और फोटोग्राफी ड्रोन आदि शामिल हैं।

चूंकि इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर सेगमेंट की डिमांड मार्केट में ज्यादा है, ऐसे में कयास लगाया जा रहा है कि वीवो इलेक्ट्रिक स्कूटर या बाइक से ईवी इंडस्ट्री में एंट्री मार सकता है।

अन्य स्मार्टफोन निर्माता कंपनियों का ईवी इंडस्ट्री में दिलचस्पी

वीवो के साथ-साथ अन्य स्मार्टफोन निर्माता कंपनी- जैसे Oneplus , Xiaomi, Huawei और Apple भी भविष्य में इलेक्ट्रिक वाहन क्षेत्र में प्रवेश करने की योजना बना रही हैं।

भारत बनेगा इलेक्ट्रिक हब

भारत को हमेशा एक बड़े मार्केट की तरह ट्रीट किया जाता है, क्योंकि यहां कन्ज्यूमर की संख्या काफी ज्यादा है, इसी वजह कई विदेशी कंपनियां इंडियन मार्केट में अपनी धाक जमाने के फिराक में रहते हैं, जैसा कि हम सब जानते हैं इलेक्ट्रिक ऑटो इंडस्ट्री काफी तेजी से ग्रो कर रहा है और कई वाहन निर्माता कंपनिया एक के बाद एक शानदार ईवी वाहनें लॉन्च कर रही है और अन्य ईवी की तरफ शिफ्ट कर रही हैं।

Edited By: Atul Yadav