नई दिल्ली (पीटीआई)। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने हार्ले-डेविडसन मोटरसाइकिल पर ज्यादा इंपोर्ट टैरिफ के लिए भारत की आलोचना की है। ट्रंप ने इसे अनुचित बताया है। आपको बता दें नई दिल्ली में उच्च ब्रैंड्स से इंपोर्टेड मोटरसाइकिलों पर कस्टम ड्यूटी घटाकर 50 फीसद कर दी गई है। इसके बावजूद भी अमेरिका के राष्ट्रपति इससे संतुष्ट नहीं है।

ट्रंप ने स्टील इंडस्ट्री पर कांग्रेस के सदस्यों के साथ चर्चा के दौरान अमेरिका में भारतीय मोटरसाइकिलों के इंपोर्ट पर टैरिफ बढ़ाने की धमकी दी। ट्रंप ने कहा कि इंपोर्ट टैरिफ को 75 फीसद से घटाकर 50 फीसद करने का भारत सरकार का हालिया फैसला पर्याप्त नहीं है। ट्रंप ने कहा कि जिस तरह से अमेरिकी व्यवस्था भारत के लिए करती है वैसे ही भारत को करना चाहिए। ट्रंप का इशारा मोटरसाइकलों के आयात पर 'जीरो टैक्स' की तरफ था क्योंकि अमेरिका भी भारत से इंपोर्ट पर जीरो टैक्स लेता है।

ट्रंप ने अमेरिका का फायदा उठाने वाले भारत या ऐसे दूसरे देशों पर एक नया 'पारस्परिक कर या जवाबी कर" लगाने की धमकी दी है। उन्होंने आरोप लगाया कि ये देश अमेरिका के साथ अपने व्यापार संबंधों का दुरुपयोग कर रहे हैं। ट्रंप ने कहा कि कई देशों के साथ हमारे व्यापार संबंध हैं लेकिन हमें अपने प्रोडक्ट्स को उन देशों में भेजने के लिए काफी टैक्स देना पड़ रहा है।

ट्रंप का आरोप है कि ये देश अमेरिका के साथ अपने व्यापार संबंधों का दुरुपयोग कर रहे हैं। इस हफ्ते ट्रंप ने व्यापार संबंधों को लेकर और जानकारी देने का वादा किया है। हालांकि, व्हाइट हाउस के सहयोगियों का कहना है कि तत्काल कार्रवाई की कोई उम्मीद नहीं है। ट्रंप ने वाइट हाउस में गवर्नरों और स्थानीय नेताओं के एक समूह के साथ बैठक में इस योजना का उल्लेख किया है।

ट्रंप ने हार्ले डेविडसन के संदर्भ में भारत का उल्लेख करते हुए कहा कि वह नाम नहीं लेना चाहते थे लेकिन भारत में भी ऐसा ही हो रहा है। इतना ही नहीं ट्रंप ने इस संदर्भ में पीएम मोदी से हुई बातचीत का भी हवाला देते हुए कहा कि भारत से ग्रेट जेंटलमैन ने मुझे कॉल कर बताया था कि हमने मोटरसाइकल पर आयात शुल्क 75 फीसद से घटाकर 50 फीसद कर दिया है।

दरअसल पीएम मोदी और ट्रंप के बीच पिछले हफ्ते बातचीत हुई थी। ट्रंप ने कहा कि अगर हमारे पास हार्ले डेविडसन है तो आपको उसे भारत में उतारने के लिए 50 से 75 फीसद टैक्स देना होगा। लेकिन भारत से आने वाली बाइक्स भी अमेरिका में बेची जाती हैं और उनपर कोई टैक्स नहीं लगता। ट्रंप ने इस संदर्भ में एक नया 'पारस्परिक कर या जवाबी कर' लगाने की धमकी दी है।

By Ankit Dubey