नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। Global NCAP साल 2014 से भारत में सुरक्षा फीचर्स को लेकर काम कर रही है। यह संस्थान सालों से भारत में बनी या बेची जाने वाली 25 बड़ी कारों और वेरिएंट्स की टेस्टिंग करती है। Global NCAP की तरफ से हाल ही में Suzuki Ignis और Honda Amaze का कार क्रैश टेस्ट किया गया है। इस टेस्ट में देखा गया कि कारें दुर्घटना के दौरान ड्राइवर और यात्रियों की कितनी सुरक्षा कर सकती हैं। Global NCAP की टेस्टिंग में इस बात का ध्यान रखा जाता है, कि दुर्घटना के दौरान कौन सी कार सुरक्षित है और कौन सी नहीं। इसके लिए कई राउंड और टेस्ट किए जाते हैं। ऐसे में इन कारों के क्रैश टेस्ट में क्या हुआ यह जानते हैं।

Suzuki Ignis

Global NCAP की तरफ से किए गए क्रैश टेस्ट में Suzuki Ignis को 3 स्टार मिला है। क्रैश टेस्ट में इस्तेमाल की गई Suzuki Ignis भारत में बनी हुई है। यूरोपियन स्पेसिफिकेशन वाली Suzuki Ignis का साल 2016 में NCAP की तरफ से कार क्रैश टेस्ट किया गया था। उस समय भी इसे 3 स्टार मिला था। मौजूदा टेस्ट में Suzuki Ignis को एडल्ट सेफ्टी के लिए 3 स्टार मिला है, जिसमें कार के फ्रंट का 64 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार पर क्रैश टेस्ट किया गया था। Global NCAP की तरफ से बताया गया है कि क्रैश टेस्ट के दौरान इसका स्ट्रक्चर अस्थिर रहा और इसमें ड्राइवर की सीने की सुरक्षा को कमजोर पाया गया।

Mahindra XUV500 के बॉडी कवर को Amazon से खरीदने के लिए यहां क्लिक करें

वहीं, चाइल्ड सेफ्टी के लिए Ignis को कम अंक मिले है। इसका एक बड़ा कारण टेस्ट के दौरान Suzuki का इसमें चाइल्ड रिस्ट्रेंट सिस्टम न देना शामिल है। Suzuki Ignis के जिस मॉडल को टेस्ट किया गया उसमें ड्यूल-फ्रंट एयरबैग्स, EBD के साथ ABS, सीट बेल्ट प्री-टेनशनर्स और ISOFIX सभी वेरिएंट्स में स्टैंडर्ड दिया गया था। इसके अलावा इसमें रिवर्स पार्किंग असिस्ट सिस्टम, फ्रंट पैसेंजर सीट बेल्ट रिमाइंडर और हाई स्पीड अलर्ट सिस्टम भी स्टैंडर्ड दिया गया है।

Honda Amaze

Global NCAP की तरफ से किए गए क्रैश टेस्ट में Honda Amaze को एडल्ट सेफ्टी के लिए 4 स्टार मिला है। क्रैश टेस्ट में इस्तेमाल की गई Honda Amaze भारत में बनी हुई है, जिसे अफ्रीका की बाजार में निर्यात किया जाता है। अफ्रीका स्पेसिफिकेशन वाली Amaze को 64 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार पर बैरियर से क्रैश किया गया। इस दौरान Honda Amaze के फुटवेल एरिया के साथ स्ट्रक्चर को स्टेबल पाया गया। हालांकि, बच्चों की सुरक्षा के लिए Global NCAP ने Honda Amaze को केवल 1 स्टार रेटिंग दी है। क्रैश टेस्ट के दौरान बच्चे के डमी ने कार के इंटीरियर से कॉन्टेक्ट किया जो सिर के जोखिम और चोट की संभावना को दर्शाता है। क्रैश में इस्तेमाल किया गया बच्चे का डमी 18 महीने से 3 साल की उम्र के बच्चों के लिए था।

क्रैश टेस्ट में इस्तेमाल की गई Amaze में फ्रंट पैसेंजर्स के लिए सीटबेल्ट रिमाइंडर और सीटबेल्ट प्रीटेंशनर्स दिया गया है। Amaze के बेस वेरिएंट में अफ्रीकन-स्पेक के लिए ड्यूल एयरबैग्स, फ्रंट सीटबेल्ट प्री-टेंशनर्स और एक ड्राइवर सीटबेल्ट रिमाइंडर स्टैंडर्ड दिया गया है। भारतीय वर्जन वाली Amaze में अफ्रीकन मॉडल के मुकाबले ज्यादा सुरक्षा के फीचर्स मिलते हैं।

Maruti Suzuki Ritz की वाटर रेजिस्टेंट कार बॉडी कवर को Amazon से खरीदने के लिए यहां क्लिक करें

यह भी पढें:

इन 8 गलतियों की वजह से मिनटों में कट सकता है चालान, हो सकती है जेल

नई कार से की गईं ये 6 गलतियां पड़ सकती हैं बहुत भारी

Yamaha और Royal Enfield की इन बाइक्स से सड़क हादसों पर लगेगी लगाम          

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Shridhar Mishra