नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। मांग में कमी के कारण ऑटो सेक्टर लगातार मुश्किल दौर से गुजर रहा है। बीते माह एक बार फिर से वाहन बिक्री में गिरावट दर्ज की गई। इस अवधि में देश की बड़ी वाहन निर्माता कंपनियों की ओर से पेश आंकड़े निराशाजनक रहे। बीते महीने हिंदूजा ग्रुप की प्रमुख कंपनी अशोक लीलैंड के सभी व्यापारिक वाहनों की बिक्री में 47 परसेंट की कमी दर्ज की गई। इस दौरान कंपनी सिर्फ 9,231 यूनिट बेच सकी, जबकि पिछले वित्त वर्ष के इसी महीने में कंपनी ने 17,386 यूनिट की बिक्री की थी।

कंपनी के मीडियम और हैवी कमर्शियल व्हीकल्स की बिक्री में 59 परसेंट की कमी दर्ज की गई। इस श्रेणी में कंपनी ने सिर्फ 5,349 यूनिट बेची हैं, जबकि बीते साल इसी महीने में कंपनी ने इस श्रेणी की 13,158 यूनिट बेची थीं। अगस्त में टीवीएस मोटर के वाहनों में 15.37 परसेंट की कमी दर्ज की गई। इस दौरान कंपनी ने कुल 2,90,455 यूनिट बेचीं, जबकि पिछले वित्त वर्ष की समीक्षाधीन अवधि में कंपनी ने कुल 3,43,217 यूनिट बेची थीं। टीवीएस प्रमुख तौर पर दोपहिया और तिपहिया वाहन बनाती है।

इस दौरान कंपनी ने दोपहिया वाहनों की 2,75,851 यूनिट बेचीं। बीते साल इसी महीने में कंपनी ने 3,30,076 दो पहिया वाहन बेचे थे। समीक्षाधीन अवधि में कंपनी की मोटसाइकिल बिक्री में 16.96 परसेंट की गिरावट दर्ज की गई। वहीं स्कूटर की बिक्री में 13.73 परसेंट की गिरावट दर्ज की गई। हालांकि कंपनी के कुल एक्सपोर्ट में 5.56 परसेंट की बढ़ोतरी दर्ज की गई। अगस्त में बजाज ऑटो सेल्स की बिक्री में भी कमी दर्ज की गई।

कंपनी ने बिक्री में 11 परसेंट गिरावट की बात कही। इस दौरान कंपनी ने 3,90,026 यूनिट बेची, जबकि बीते साल इसी महीने में कंपनी ने कुल 437,092 यूनिट बेची थी। बजाज की घरेलू बिक्री में 19 परसेंट की गिरावट देखी गई। इस दौरान कंपनी ने देश में 2,08,109 यूनिट बेची, जबकि बीते वर्ष कंपनी 2,55,631 यूनिट बेचने में सफल रही थी। बजाज के एक्सपोर्ट में भी गिरावट दर्ज की गई।

यह भी पढ़ें: Maruti Suzuki दे रही साल का सबसे बड़ा ऑफर, बेहद सस्ती हुई ये कारें

यह भी पढ़ें: 33.54 km तक का माइलेज देती हैं भारत में बिकने वाली ये किफायती CNG कारें

Posted By: Sajan Chauhan

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप