नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। नोवल कोरोनावायरस महामारी एक बड़ा खतरा है और वायरस के प्रसार को रोकने के लिए हर संभव प्रयास किया जा रहा है। Covid-19 वायरस से यह भी पता चलता है कि हमारी स्वास्थ्य देखभाल प्रणाली कैसे विकसित हुई है और सभी क्षेत्रों से अधिक ध्यान और प्रयासों की आवश्यकता है। देश में हमारे चिकित्सा पेशेवरों के स्वास्थ्य की सुरक्षा के लिए अपना काम करते हुए Skoda Auto Volkswagen ने पुणे के पास अपने चाकण प्लांट में फेस कवच (शील्ड) का प्रोडक्शन शुरू कर दिया है। कार निर्माता कंपनी ने अपने प्लांट में बनाए गए फेस कवच की तस्वीरें साझा की हैं जो स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को संक्रमित रोगियों से बचाता है। फेस शील्ड को कर्मियों के चेहरे के संपर्क में आने से बूंदों को रोकने के लिए डिजाइन किया गया है, जबकि डिजाइन हल्का है और फॉगिंग को रोकने में मदद करता है।

इस फेस शील्ड को फिर से इस्तेमाल कर सकते हैं और इसे 6 से 8 घंटे तक इस्तेमाल किया जा सकता है और फिर से सैनिटाइज करके इस्तेमाल किया जा सकता है। कंपनी फेस मास्क भी बना रही है जिसे ससून जनरल अस्पताल में डीन और ICU द्वारा उपयोग के लिए अप्रूव्ड किया गया है। इसके अलावा कार निर्माता कंपनियां मुंबई, पुणे और औरंगाबाद के अस्पतालों में 35,000 सैनिटाइजर दान कर रहा है। यह औरंगाबाद में गैर-सरकारी संगठनों के साथ 50,000 खाद्य पैकेट बांटने के लिए भी सहयोग कर चुका है।

इसके अलावा Skoda Auto Volkswagen ने भी एक समर्पित सुविधा के लिए वित्तीय सहायता के रूप में 1 करोड़ का वादा किया है जो 1100 कोरोनावायरस रोगियों को समायोजित करने में सक्षम होगा। यह सुविधा पुणे में ससून जनरल अस्पताल के साथ स्थापित किया जा रहा है। इस बीच वित्तीय योगदान, स्वास्थ्य पेशेवरों के लिए व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण किट और औषधीय उपभोग के स्रोत के लिए उपयोग किया जाएगा। 

Posted By: Ankit Dubey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस