नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। Royal Enfield South Pole: देश की प्रमुख बाइक निर्माता कंपनी रॉयल एनफील्ड 1901 से लेकर अब तक लगातार उत्पादन करने वाली दुनिया की सबसे पुरानी मोटरसाइकिल ब्रांड है। 120 सालों पहले रॉयल एनफील्ड की सवारी करने के लिए लोग जितने उत्साहित होते थे, उतने ही आज भी होते हैं।फिलहाल कंपनी ने घोषणा की है, कि ऑटोमोटिव जगत के लिए वाहनों के निर्माण के 120 साल पूरे होने का जश्न मनाने के लिए इसकी बाइक्स South Pole की अपनी तरह की पहली यात्रा शुरू करेंगी। इस यात्रा का हिस्सा रॉयल एनफील्ड Himalayan बाइक होगी। सभी एनफील्डर्स के लिए एक सम्मान के रूप में संकल्पित 90 डिग्री साउथ पोल ऐसी जगह जाने की कोशिश होगी जहाँ पहले कोई मोटरसाइकिल नहीं गई है

कंपनी रॉस आइस शेल्फ से लेवेरेट ग्लेशियर से होते हुए ज्योग्राफिक साउथ पोल तक पहुंचने का प्रयास करने के लिए रॉयल एनफील्ड हिमालयन पर एक मोटरसाइकिलिंग एक्सपेडिशन शुरू करेगी, रॉयल एनफील्ड के लिए इस माइलस्टोन साल और एक्सपेडिशन की कोशिश के बारे में बात करते हुए आयशर मोटर्स लिमिटेड के मैनेजिंग डायरैकटर सिद्धार्थ लाल ने कहा, “120 साल ब्रांड के लिए एक लंबी विरासत है, और हम हमें ख़ुशी है की हमने यह साल इतने योग्य बनाये हैं । इन सालों के दौरान हमने दुनिया भर में राइडिंग और एक्सप्लोरेशन के एक शानदार कल्चर का निर्माण और इसका पोषण किया है।"

एक्सप्लोरेशन की यह खोज हमारे डी.एन.ए का एक जरुरी हिस्सा रही है और 90 डिग्री साउथ- कवेस्ट फॉर साउथ- पोल असाधारण, एपिक मोटरसाइकलिंग राइड्स की हमारी सिरीज का एक अन्य चैप्टर है। पिछले समय में हिमालयन ओडिसी जैसी राइड्स ने हिमालय में मोटरसाइकिलिंग के रोमांच को बढ़ावा दिया है, और साउथ पोल पर इस तरह का एक एपिक एक्सपेडिशन लोगों को फिर से साहसी बनने के लिए प्रेरित करेगा। इन्सान और मशीन के धीरज और दृढ़ता की परीक्षा लेने वाला यह एक्सपेडिशन मोटरसाइकिल पर साउथ पोल के लिए 770 किमी लंबे रस्ते को पार करने की अपनी तरह की पहली कोशिश है।”

26 नवंबर 2021 को केप टाउन, साउथ अफ्रीका से शुरू होने वाले इस एक्सपेडिशन में रॉयल एनफील्ड के दो राइडर्स - संतोष विजय कुमार, लीड - राइड्स एंड कम्युनिटी, रॉयल एनफील्ड, और डीन कॉक्सन, सीनियर इंजीनियर- प्रोडक्ट डेवलपमेंट, रॉयल एनफील्ड- लेवेरेट ग्लेशियर से होते हुए रॉस आइस शेल्फ से अमुंडसेन-स्कॉट पोल स्टेशन तक ज्योग्राफिक साउथ पोल तक पहुंचने की कोशिश करेंगे। रास्ते में उनकी मदद करने के लिए, आरई ने उनके हिमालय को एक छोटे फ्रंट स्प्रोकेट और एक ट्यूबलेस व्हील सेटअप को स्नो टायर के साथ संशोधित किया है।

Edited By: Bhavana