नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। Maruti Suzuki India ने भारत सरकार से अनुरोध किया है कि वह वेंटिलेटर, मास्क और अन्य सुरक्षात्मक उपकरणों के प्रोडक्शन में सहायता करने की जांच की है। कंपनी ने AgVa हेल्थकेयर के साथ एक व्यवस्था में प्रवेश किया है, जो वेंटिलेटर बनाती है। मारुति AgVa हेल्थकेयर के साथ तेजी से वेंटिलेटर के प्रोडक्शन को बढ़ाने के लिए काम करेगी और कंपनी का इरादा प्रति माह करीब 10,000 वेंटिलेटर बनाने का है।

AgVa हेल्थकेयर उन सभी वेंटिलेटरों के लिए टेक्नोलॉजी, परफॉर्मेंस और संबंधित मामलों के लिए जिम्मेदार होगा जो उनके द्वारा उत्पादित और बेचे जाते हैं। ऐसे में मारुति सुजुकी अपने सप्लायर्स का उपयोग कम्पोनेंट्स की आवश्यक मात्रा प्रोडक्शन करने के लिए करेगी और ज्यादा पैमाने पर क्वालिटी कंट्रोल के लिए अपने सिस्टम को अपग्रेड करेगी। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मारुति सुजुकी के चेयरमैन आर सी भार्गव ने कहा था कि Covid-19 एक जरूरी चिंता का विषय है और दुनिया इसी से जूझ रही है और कंपनी वेंटिलेटर बनाने की संभावना को देखते हुए अपना काम कर रही है।

मारुति सुजुकी वित्तपोषण की व्यवस्था करने और वेंटिलेटर के उच्च प्रोडक्शन को सक्षम करने के लिए आवश्यक सभी अनुमतियों और स्वीकृतियों को प्राप्त करने में मदद करेगी। कंपनी AgVa हेल्थकेयर को ये सभी सुविधाएं मुफ्त में देगी। मारुति सुजुकी की ज्वाइंट वेंचर कृष्णा मारुति लिमिटेड ने हरयाणा और केंद्र सरकार को सप्लाई करने के लिए 3-प्लाइ मास्क का निर्माण करेगी। सभी अप्रूवल्स मिलते ही प्रोडक्शन शुरू होने की उम्मीद है। अशोक कपूर स्वंय के योगदान में 20 लाख मास्क मुफ्त प्रदान करेंगे।

मारुति सुजुकी के साथ रेलन फैमिली की ज्वाइंट वेंचर भारत सीट्स लिमिटेड, को सभी अप्रूवल्स मिलते ही एक सुरक्षात्मक कपड़े का निर्माण करेगा। सभी मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स सरकार की अनुशंसित प्रथाओं के अनुसार कर्मचारियों की सुरक्षा और स्वास्थ्य की रक्षा के लिए अधिकतम ध्यान रखेंगी।

ये भी पढ़ें:

Coronavirus Lockdown: डिजिटल वर्ल्ड प्रीमियर में Honda ने पेश की अपनी पावरफुल मोटरसाइकिल

बिके हुए BS4 वाहनों पर सुप्रीम कोर्ट ने दी छूट, 31 मार्च के बाद भी होगा रजिस्ट्रेशन

Posted By: Ankit Dubey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस