नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। हीरो इलेक्ट्रिक और महिंद्रा समूह ने बुधवार को इलेक्ट्रिक वाहन क्षेत्र में एक बड़े समझौते की घोषणा की है। कंपनियों ने एक संयुक्त बयान में कहा कि इस साझेदारी के तहत महिंद्रा समूह हीरो इलेक्ट्रिक की सबसे लोकप्रिय इलेक्ट्रिक बाइक ऑप्टिमा और एनवाईएक्स का निर्माण मध्य प्रदेश में अपने पीथमपुर प्लांट में करेगा, ताकि बाजार की बढ़ती मांग को पूरा किया जा सके। इस सहयोग के साथ हीरो 2022 तक हर साल 10 लाख से अधिक इलेक्ट्रिक वाहनों के निर्माण के लिए सक्षम हो जाएगा।

एक साथ होंगे उद्योग जगत के दो बड़े लीडर 

हीरो इलेक्ट्रिक के एमडी नवीन मुंजाल ने कहा कि अपनी जड़ें और मजबूत करने और नेतृत्व को मजबूत करने के लिए हीरो इलेक्ट्रिक ने महिंद्रा ग्रुप के साथ साझेदारी की घोषणा की है, जो इलेक्ट्रिक थ्री और फोर व्हीलर स्पेस में ईवी ट्रांजिशन का नेतृत्व कर रहा है। उन्होंने कहा कि दो उद्योग जगत के लीडर का एक साथ आना मांग को पूरा करने के लिए विनिर्माण क्षमताओं को और बढ़ाना है। देश में नए केंद्रों तक पहुंचने के लिए महिंद्रा समूह की मजबूत आपूर्ति श्रृंखला का उपयोग करना है।

मुंजाल ने कहा कि लंबी साझेदारी से दोनों कंपनियां ईवीएस के बारे में एक-दूसरे के टेक्नोलॉजी और रिसर्च का अधिकतम लाभ उठा सकेंगी और अगले कुछ वर्षों में नए प्रोडक्ट डेवलपमेंट को आगे बढ़ा सकेंगी। उन्होंने कहा कि कंपनी ईवी मार्केट के मद्देनजर भविष्य में महिंद्रा समूह के साथ और अधिक तालमेल बनाने की उम्मीद कर रही है। 

एक प्लेटफॉर्म पर काम करेंगी दो कंपनी

महिंद्रा एंड महिंद्रा के ऑटो एंड फार्म सेक्टर के कार्यकारी निदेशक राजेश जेजुरिकर ने कहा कि यह रणनीतिक साझेदारी संयुक्त विकास और दो व्यवसायों की संयुक्त ताकत का लाभ उठाने के लिए एक प्लेटफॉर्म के माध्यम से इन प्रयासों को बढ़ावा देगी। Peugeot Motocycles की दुनिया के कई क्षेत्रों और विशेष रूप से यूरोप में EV मोबिलिटी स्पेस में महत्वाकांक्षी योजनाएं हैं और महिंद्रा समूह फ्रांस स्थित प्यूज़ो मोटोसायकल (पीएमटीसी) का मालिक है। ऐसे में दोनों कंपनियों का साथ में काम करना बहुत ही फायदेमंद हो सकता है।

भारत में बढ़ेगा ईवी उद्योग 

जेजुरिकर ने कहा कि भारत में कंपनी का आरएंडडी केंद्र इस व्यवस्था का अभिन्न अंग होगा, जैसा कि पीथमपुर में विनिर्माण सुविधा होगी, जो पहले से ही ईवी उत्पादों के साथ प्यूजो की आपूर्ति करता है। यह भारतीय और वैश्विक बाजारों को ध्यान में रखते हुए किया जाएगा, जो न केवल इलेक्ट्रिक वाहनों के विकास को आगे बढ़ाएगा, बल्कि उद्योग में तेजी लाने का मानक स्थापित करेगा।

Edited By: Sarveshwar Pathak