नई दिल्ली (ऑटो डेस्क)। Global NCAP ने Suzuki Ignis का क्रैश टेस्ट किया और इसे सुरक्षा के मामले में तीन स्टार रेटिंग दी हैं। Ignis, जो क्रैश टेस्ट में इस्तेमाल की गई उसकी मैन्युफैक्चरिंग भारत में की गई है। यूरोपियन स्पेक सुजुकी इग्निस का क्रैश टेस्ट यूरो NCAP द्वारा 2016 में किया गया था और उस समय भी इसे 3 स्टार रेटिंग मिली। Suzuki Ignis को व्यस्क की सुरक्षा के मामले में तीन स्टार मिले हैं और इसके फ्रंट का 64kmph की रफ्तार पर क्रैश टेस्ट किया गया। ग्लोबल NCAP ने वाहन की संरचना को अस्थिर माना और ड्राइवर के लिए कमजोर चेस्ट प्रोटेक्शन की पेशकश की है।

जिस Ignis का क्रैश टेस्ट हुआ उसमें दो एयरबैग्स और ABS स्टैंडर्ड मिलते हैं। यह निश्चित रूप से इग्निस का अफ्रीका-स्पेक वर्जन है। भारत में इनमें से जो एक बेचा जाता है वह सेफ्टी फीचर्स जैसे डुअल फ्रंट एयरबैग्स, ABS के साथ EBD, सीट बेल्ट प्री-टेंशनर्स के साथ फोर्स लिमिटर्स और ISOFIX चाइल्स सीट माउंट, रिवर्स पार्किंग सेंसर्स, को-ड्राइवर सीट बेल्ट रिमाइंडर और हाई-स्पीड अलर्ट सिस्टम स्टैंडर्ड सभी वेरिएंट्स में दिए गए हैं।

चाइल्ट सेफ्टी की बात करें तो क्रैश टेस्ट में Ignis ने कम स्कोर हासिल किया क्योंकि सुजुकी ने परीक्षण के लिए बच्चे के संयम प्रणाली की सिफारिश नहीं की। Global NCAP का मानना है कि कार निर्माता हमेशा कार में रहने वाले सभी लोगों के लिए जिम्मेदार हैं और इस कारण उन्हें हमेशा टेस्ट में बच्चे के संयम प्रणाली का उपयोग करने की सिफारिश करनी चाहिए और जब वे ऐसा करने के लिए मना करते हैं तो कार निर्माता को टेस्ट के दौरान अंक नहीं दिए जाते हैं।

अपडेटेड 2019 Ignis को भारत में हाल ही में लॉन्च किया गया है और इसकी कीमत 4.79 लाख से 7.14 लाख रुपये (एक्स शोरूम दिल्ली) तक है। Ignis में पेट्रोल इंजन के साथ 5 स्पीड मैनुअल और AMT भी दिया गया है।

यह भी पढ़ें:

Volkswagen Polo, Vento और Ameo के कप एडिशन्स हुए लॉन्च, जानें क्या है खास

JCB के Memes क्यों मचा रहे हैं सोशल मीडिया पर गदर?

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ankit Dubey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप