नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। Jawa Electric Motorcylcle:  जावा मोटरसाइकिल ने भारत में 2018 के अंत में अपनी मोटरसाइकिल के साथ भारतीय बाजार में प्रवेश किया था। रिपोर्ट के मुताबिक मोटरसाइकिल ब्रांड पहले से ही एक नई इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल पर काम कर रहा है। यानी जावा भविष्य में इलेक्ट्रिक सेगमेंट में उतरने पर विचार कर रही है। जावा के सीईओ आशीष सिंह ने कोवेंट्री, यूके में एक नए डेवलेपमेंट सेंटर का खुलासा किया है। इसमें बीएसए के लिए काम करने वाले 12 से 15 कर्मचारियों की टीम होगी।

माना जा रहा है, कि मोटरसाइकिल जिस इलेक्ट्रिक तकनीक का उपयोग करेगी, उसे वर्तमान में इस R&D केंद्र में विकसित किया जा रहा है। वहीं जावा की पहली इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल के 2022 के मिड तक भारतीय बाजार में आने की उम्मीद है। आशीष सिंह ने कहा, "हमने कोवेंट्री में अपना छोटा सा आर एंड डी सेंटर स्थापित किया है, अब हमारे पास हमारी तरफ से काम करने वाले 12 से 15 लोग हैं। वे बीएसए के कर्मचारी हैं जो इस पर काम कर रहे हैं। मुझे लगता है कि इलेक्ट्रिफाई एक ऐसी चीज है जो पर्यावरण के दृष्टिकोण से, और उत्सर्जन, नियामक दृष्टिकोण से भी भविष्य के लिए जरूरी है। ”

बता दें, जावा स्थानीयकरण पर ध्यान केंद्रित करेगा, क्योंकि इससे भारतीय बाजार में प्रतिस्पर्धी रूप से नई मोटरसाइकिल की कीमत तय करने में मदद मिलेगी। मोटरसाइकिल का डिज़ाइन कुछ मार्डन तकनीक के साथ रेट्रो दिखने की उम्मीद है जो इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल की तरफ इशारा करेगा। माना जा रहा है कि मोटरसाइकिल पर नीले रंग के एक्सेंट हो सकते हैं। जो हम टाटा नेक्सॉन ईवी और नेक्सॉन पेट्रोल में देखते हैं।  जावा इलेक्ट्रिक में बैटरी को वहीं स्टोर किया जाएगा जहां आमतौर पर इंजन जाता है यानी ईंधन टैंक के नीचे। बैटरी पैक की क्षमता का अभी पता नहीं चला है। लेकिन माना जा रहा है, कि इसकी रेंज 200 से 250 किमी होगी। वहीं

Edited By: Bhavana