नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। अगर आप भी उन लोगों में शामिल हैं, जो Helmet का मजाक उड़ाते हैं तो हमारी यह खबर आपको जरूर पढ़नी चाहिए। आज हम आपको हेलमेट से जुड़ी कुछ ऐसी बातों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो आपका नजरीया और सोच बदल देगी। दरअसल जब से नया मोटर व्हीकल ऐक्ट देश के कई राज्यों में लागू हुआ है, तब से लोग Traffic Police के डर से हेलमेट लगाना शुरू कर दिए हैं। इसका एक बड़ा कारण हेलमेट न पहनने पर 1000 रुपये का Traffic Challan है, लेकिन आज आपको पता चलेगा कि हेलमेट को लेकर इतनी सख्ती क्यों की जा रही है और क्यों ये आपकी जिंदगी के लिए सबसे जरूरी चीज है।

हेलमेट ने पहनने की वजह से हर घंटे जाती है 5 लोगों की जान

देशभर में हर रोज ओसतन 119 लोगों की मौत हेलमेट न लगाने की वजह से होती है। यानी हर घंटे 5 लोग सड़क हादसे में अपनी जान गवा देते हैं और इसका कारण उनका हेलमेट न पहनना होता है।

साल 2018 में बिना हेलमेट कितने लोगों ने गंवाई जान?

साल 2018 में टू-व्हीलर पर बिना हेलमेट यात्रा करने पर 43,600 लोगों की सड़क हादसों में मौत हो गई। 2017 के मुकाबले इस साल करीब 21 फीसद ज्यादा लोगों की रोड एक्सीडेंट में मौत हेलमेट न लगाने के कारण हुई। वहीं, इसी साल 15,360 लोगों की मौत का कारण पीछे की सीट पर बिना हेलमेट यात्रा करना था।

साल 2018 में बिना हेलमेट कितने जानें गईं?

साल 2017 में टू-व्हीलर पर बिना हेलमेट यात्रा करने वाले 35,975 लोगों की सड़क हादसों में मौत हो गई।

उत्तर प्रदेश के लोगों ने गंवाई सबसे ज्यादा जान

साल 2018 में उत्तर प्रदेश में हेलमेट न पहनने की वजह से मौत हुई हैं। यहां इस साल 6020 लोगों की मौत हेलमेट के चलते हुई है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस