नई दिल्ली (ऑटो डेस्क)। होंडा कार्स इंडिया लिमिटेड ने ऑटोमोटिव स्किल डेवलपमेंट काउंसिल (ASDC) के साथ समझौता अनुबंध (MoU) करने की घोषणा की है। यह अनुबंध राजस्थान के अलवर जिले में तापूकारा में स्थित अपने प्रमुख ट्रेनिंग सेंटर- होंडा वोकेशनल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट (HVTI) को मान्यता दिलाने के लिए किया गया है। इस अनुबंध पर HCIL के सीनियर वीपी और डायरेक्टर (जनरल अफेयर्स) श्री प्रवीण परांजपे और ASDC के चेयरमैन निकुंज सांघी ने हस्तारक्षर किये हैं।

HVTI होंडा का आधुनिक तकनीकी प्रशिक्षण केंद्र है जिसकी स्थापना अक्टूबर 2011 में 51 मिलियन के शुरुआती निवेश से की गई थी। यह ऑटोमोबाइल विशिष्‍ट पद्धतियों से सुसज्जित है और 12वीं पास एवं आइटीआइ स्टूडेंट्स के लिए रोजगार के अवसर उत्पन्न करता है। ASDC से मान्यता मिलने के बाद HVTI ASDC द्वारा तय किए गए पाठ्यक्रम एवं प्रोटोकॉल का इस्ते‍माल कर युवाओं को व्यावसायिक प्रशिक्षण देने में सक्षम होगा। HVTI से पास होने वाले सभी ट्रेनीज को ASDC द्वारा प्रमाणित कोर्स का लाभ मिलेगा और इससे उन्हें नौकरी मिलने की संभावना बढ़ेंगी।

होंडा कार्स इंडिया लिमिटेड के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट और डायरेक्टर, जनरल अफेयर्स, श्री प्रवीण परांजपे ने कहा, “ASDC के साथ HVTI का सहयोग इस क्षेत्र में खासतौर से युवाओं के लिए नए अवसर प्रस्तुत करेगा। अपनी शुरुआत से ही HVTI पहल के माध्यम से, हमने 100 प्रतिशत प्लेसमेंट सहयोग के साथ लगभग 14,000 स्टूसडेंट्स को प्रशिक्षित किया है और दक्ष कर्मचारी तैयार किया है जोकि ऑटोमोटिव उद्योग की बढ़ती जरूरतों को पूरा करेंगे। यह पहल युवा विकास के लिए HCIL की प्रतिबद्धता को दोहराती है और हम एक ऐसी कंपनी बनना चाहते हैं जो सामाजिक संरचना को और मजबूत करती है। ASDC के साथ गठबंधन कर, हम प्लांट के आसपास के स्थाऔनीय समुदायों को सहयोग कर रहे हैं और सकारात्मक बदलाव लाने की दिशा में काम कर रहे हैं।”

स्टूकडेंट्स होंडा वोकेशनल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट द्वारा डिजाइन किए गए अलग-अलग ऑटोमोटिव ट्रेनिंग पाठ्यक्रमों का चयन कर सकते हैं। जैसे कि मैन्यु्फैक्चटरिंग, वेल्डिंग मॉड्यूल, फिल्टर मॉड्यूल, पेंट मॉड्यूल, अप्रेंटिसशिप आदि की बुनियादी जानकारी की पेशकश। यह प्रशिक्षण सभी स्टूडेंट्स को रियायती दरों पर मुहैया कराया जाएगा। 

Posted By: Ankit Dubey