नई दिल्ली (ऑटो डेस्क)। फोर्ड इंडिया ने घोषणा की है कि वह जनवरी 2018 से अपनी कारों की कीमतें 4 फीसद तक बढ़ा देगी। कंपनी ने कीमतों में बढ़ोतरी का कारण आंशिक रूप से बढ़ती इनपुट लागतों के प्रभाव को बताया है।

फोर्ड इंडिया, सेल्स एंड सर्विस के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर - मार्केटिंग, विनय रैना ने कहा, "कमोडिटी की कीमतों में लगातार उतार-चढ़ाव, बढ़ती इनपुट और भाड़ा लागत जैसे कार कारकों की वजह से गाड़ियों के मूल्यों में वृद्धि आवश्यक है। कंपनी ने इन वृद्धिशील लागतों के एक बड़े हिस्से को अवशोषित करके और कीमतों में वृद्धि को 4 फीसदी तक कैप करके ग्राहकों के प्रभाव को कम करने की कोशिश की है।"

कंपनी ने कहा कि बढ़ाई गई कीमतें फोर्ड के सभी उत्पादों पर लागू होंगी। हाल ही में लॉन्च की गई फोर्ड ईकोस्पोर्ट की आरंभिक कीमत 7,31,200 रुपये है जो कि जनवरी 2018 से वेरिएंट्स के हिसाब से 30,000 रुपये तक बढ़ जाएगी।"

टाटा मोटर्स की कारें होंगी 25,000 तक महंगी:

टाटा मोटर्स ने घोषणा की है कि वह जनवरी 2018 से अपने यात्री वाहनों की कीमतों में 25,000 रुपये तक की बढ़ोतरी कर देगी। कंपनी ने इसका मुख्य कारण इनपुट कॉस्ट में आई तेजी को बताया है।कंपनी टियागो, हेक्सा, टिगोर और नेक्सन मॉडल की कीमतों में बढ़ोतरी करेगी।

टाटा मोटर्स, पैसेंजर व्हीकल बिजनेस के प्रेसिडेंट मयंक पारीक ने कहा, "बदलते बाजार की स्थिति, बढ़ते इनपुट लागत और विभिन्न बाहरी आर्थिक कारकों ने हमें मूल्य वृद्धि पर विचार करने के लिए मजबूर किया है।"

कंपनी के मुताबिक हाल ही में टाटा मोटर्स की ओर से लॉन्च की कॉम्पैक्ट SUV नेक्सन की प्रारंभिक कीमतें दिसंबर 31 तक समाप्त हो जाएंगे और यह पूरी रेंज जनवरी 2018 से 25,000 रुपये तक महंगी हो जाएंगी।

टोयोटा ने बढ़ाए 3% तक दाम:

टोयोटा किर्लोस्कर मोटर ने भी गुरुवार को अपने विभिन्न कार मॉडलों की कीमत में बढ़ोतरी करने का एलान किया। कंपनी जनवरी से कारों के दामों में तीन फीसद तक की बढ़ोतरी करेगी। टोयोटा ने इसके लिए इनपुट कॉस्ट और माल भाड़े की वृद्धि को जिम्मेदार ठहराया है। यह कंपनी हैचबैक इटियोस लीवा से लेकर लैंड क्रूजर तक बेचती है। कीमत में बढ़ोतरी के बाद मॉडल्स के हिसाब से कारों के दाम 5,000-1.1 लाख रुपये बढ़ जाएंगे।

इन कंपनियों ने भी बढ़ाए दाम:

होंडा कार्स इंडिया ने भी कहा कि वह 1 से 2 फीसद तक या फिर 25 हजार रुपये तक कीमतों में बढ़ोतरी करेगी। वहीं, महिंद्रा एंड महिंद्रा भी 7,000 से 30,000 तक अपने मॉडल्स की कीमतों में बढ़ोतरी कर देगी। स्कोडा ऑटो ने अपनी कारों के दामों में 2-3 फीसद की बढ़ोतरी का एलान किया है, जिसमें 14,000-50,000 रुपये तक कीमत बढ़ जाएगी। इसुजु मोटर्स भी जनवरी से अपने मॉडल्स की कीमतें 1 लाख रुपये तक बढ़ाने जा रही है।

इसुजु ने भी बढ़ाई 4% तक कीमतें:

इसुजु मोटर इंडिया ने भी अपनी कारों की कीमतें बढ़ाने की घोषणा की है। कंपनी 1 जनवरी 2018 से अपने पिक-अप ट्रक्स और SUV मॉडल रेंज की कीमतें 3 से 4 फीसद तक बढ़ा देगी। कीमतों में बढ़ोतरी के बाद इसुजु की गाड़ियां 15,000 रुपये से लेकर 1 लाख रुपये तक महंगी हो जाएगी। जिसमें इसुजु डी-मैक्स से लेकर MU-X एसयूवी शामिल हैं।

ये कंपनियां नहीं बढ़ा रहीं दाम:

मारुति सुजुकी, हुंडई मोटर इंडिया लिमिटेड (HMIL), मर्सिडीज बेंज, JLR और ऑडी अभी तक अपने वाहनों की कीमतें बढ़ाने पर किसी तरह का कोई विचार नहीं कर रही हैं। स्कोडा के स्वामित्व वाली कंपनी फॉक्सवैगन भी कीमतों में वृद्धि पर विचार कर रही हैं, लेकिन क्वांटम अभी मजबूत होना बाकी है। 

Posted By: Ankit Dubey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप