नई दिल्ली (ऑटो डेस्क)। फोर्ड इंडिया ने अक्टूबर महीने की अपनी सेल्स रिपोर्ट जारी कर दी है। कंपनी ने अक्टूबर 2018 में 30 फीसद की बढ़त के साथ 21,346 यूनिट्स की बिक्री की है। इससे बीते वर्ष समान अवधि में कंपनी ने 15,033 यूनिट्स की बिक्री की थी। इसी तरह कंपनी ने घरेलू बाजार की खुद्रा बिक्री में 114 फीसद की बढ़त के साथ 9,044 यूनिट्स की बिक्री की है, जबकि अक्टूबर 2017 में कंपनी ने 4,218 यूनिट्स की बिक्री की थी।

निर्यात की बात करें तो कंपनी ने 12 फीसद की बढ़त के साथ अक्टूबर महीने में 12,302 वाहनों का निर्यात किया है, जबकि इससे बीते वर्ष समान अवधि में कंपनी ने 10,815 यूनिट्स का निर्यात किया था।

फोर्ड इंडिया के प्रेसिडेंट और मैनेजिंग डायरेक्टर, अनुराग मेहरोत्रा ने कहा, "इंडस्ट्री को कम उपभोक्ता भावना, उच्च ईंधन मूल्य और निकट अवदि में ब्याज दर के मुकाबले का सामना करना पड़ रहा है। फोर्ड में हम मजबूत ब्रांड, राइट प्रोडक्ट, कॉम्पिटिटिव कॉस्ट और इपेक्टिव स्केल के हमारे चार सामरिक स्तंभो को जारी रखते हैं, जिसने हमें इडस्ट्री से तेजी से बढ़ने में सक्षम बनाया है।"

अक्टूबर महीने में फोर्ड ने एस्पायर सब-कॉम्पैक्ट सेडान का फेसलिफ्ट वर्जन लॉन्च किया है। कंपनी ने इसकी कीमत 5.55 लाख रुपये शुरुआती रखी है, जो कि 8.49 लाख रुपये (एक्स शोरूम दिल्ली) तक जाती है। 2018 फोर्ड एस्पायर प्री-फेसलिफ्ट मॉडल जैसा है और यह दो पेट्रोल इंजन और एक डीजल इंजन विकल्प के साथ आई है। दोनों पेट्रोल इंजन नए ड्रैगन सीरीज - 1.2 लीटर थ्री-सिलेंडर यूनिट और 1.5 लीटर थ्री-सिलेंडर यूनिट के साथ मौजूद हैं।

Posted By: Ankit Dubey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप