नई दिल्ली: ग्लोबल न्यू कार असेस्मेंट प्रोग्राम (NCAP) के क्रैश टेस्ट में फोर्ड की कॉम्पैक्ट सेडान कार फिगो एस्पायर के परिणाम सामने आयें हैं। इस क्रैश टेस्ट में सेफ्टी के मामले में इस कार को कितनी रेटिंग मिली है, आइये जानते हैं।

फोर्ड की फीगो एस्पायर के ड्यूल-एयरबैग वाले वेरिएंट को इस क्रैश टेस्ट में उतारा गया था। सेफ्टी के लिहाज से कार को व्यस्क पैसेंजर की सेफ्टी के तौर पर 3 स्टार रेटिंग मिली हैं। जबकि पिछली सीट पर चाइल्ड सेफ्टी के लिए 2 स्टार रेटिंग मिली है।

पिछली बार के मुकाबले इस बार फोर्ड ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया है। पिछली बार फोर्ड की फिगो को जीरो स्टार रेटिंग मिली थी। यानी इस बार जीरो से हीरो बनी फोर्ड की फिगो एस्पायर के लिए काफी अच्छी बात है। क्रैश टेस्ट के आंकड़े बताते हैं कि फोर्ड कारों की सेफ्टी रेटिंग में इजाफा हो रहा है। और यह इस बात का साफ़ संकेत है की फोर्ड अपनी गाड़ियों को लेकर बहुत सीरियस है।

वही शेवरले की फैमिली कार एन्जॉय को इसी क्रैश टेस्ट में जीरो रेटिंग मिली थी जोकि एक निराश कार देने वाला विषय है। यानी आप इस बात का अंदाजा लगा सकते हैं कि शेवरले किस तरह क्वालिटी अपनी कारों को बनाने में इस्तेमाल कार रही है।

गाड़ियों में सेफ्टी बहुत जरूरी है भारत में अब इस विषय पर ग्राहक भी गंभीर हो रहे हैं। इसलिए अब कार लेते वक़्त सेफ्टी फीचर्स पर भी गौर किया जाता है। वही कंपनियां भी इस ओर अधिक ध्यान दे रही हैं। अभी हाल ही में ग्लोबल एनकैप के क्रैश टेस्ट में टाटा की जेस्ट को 4-स्टार रेटिंग मिल चुकी है, इस के अलावा टोयोटा इटियॉस और फॉक्सवेगन पोलो के खाते में भी 4-स्टार रेटिंग दर्ज है।

यह भी पढ़े: शेवरले की एंजॉय खरीदने से पहले इस खबर को जरूर पढ़े, वर्ना हो सकता है लाखों का नुकसान

Posted By: Bani Kalra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप