नई दिल्ली, पीटीआइ। कोरोनावायरस महामारी के चलते पहली बार खरीदने वालों और अतिरिक्त कार खरीदने वालों की संख्या में इजाफा हुआ है। Maruti Suzuki India के एक सीनियर ऑफिशियल ने बताया कि ग्राहक पब्लिक ट्रांसपोर्ट की जगह पर्सनल मोबिलिटी को ज्यादा तवज्जों दे रहे हैं। मारुति सुजुकी का मानना है कि जुलाई में व्हीकल्स की बिक्री में सुधार आया है। वहीं फेस्टिव सीजन कैसा रहेगा यह इस बात पर निर्भर करेगा कि यह स्वास्थ्य संकट कैसे जाएगा। वहीं लॉन्ग टर्म व्हीकल डिमांड भी इस बात पर निर्भर करेगी कि अर्थव्यस्था कैसी रहती है।

Maruti Suzuki इंडिया लिमिटेड के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर (सेल्स और मार्केटिंग) शशांक श्रीवास्तव ने कहा कि "पहली बार खरीदारी में इजाफा हुआ और कार रिप्लेसमेंट की खरीदारी नीचे हुई है, जिसका मतलब है कि कार एक्सचेंज कम हो रही हैं। हालांकि समय की जरूरत के कारण अतिरिक्त कार खरीदारी में भी इजाफा हुआ है।"

इस विकास के पीछे की वजह से बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि "इसका मतबल यह है कि लोग पब्लिक ट्रांसपोर्ट की तुलना में पर्सनल ट्रांसपोर्ट को ज्यादा पसंद कर रहे हैं। वहीं दूसरी ओर कुछ समय के लिए लोगों की आय का स्तर पर कम होगा। इसलिए प्रवृत्ति उसकी ओर है जिसे हम 'टेलिस्कोपिंग ऑफ डिमांड डाउनवर्ड' कहते हैं, जो कि वह तार्किक और सहज है। यह उन आंकड़ों में भी नजर आ रहा है जो कि अभी हमारे पासं हैं।"

मारुति सुजुकी ने देखा कि इस वित्त वर्ष की पहली तिमाही में 2019-20 की चौथी तिमाही की तुलना में पहली बार कार खरीदने वाले हिस्सा 5.5 फीसद से बढ़कर 51-53 फीसद हो गया है। कंपनी ने देखा कि कोविड-19 के बाद पूछताछ का स्तर 85-90 फीसद पहुंच गया है जो कि मिनी और कॉम्पैक्ट सेगमेंट में 55 फीसद से बढ़कर 65 फीसद तक पहुंच गया है।

जुलाई में Maruti Suzuki Alto और Maruti Suzuki S-Presso समेत मारुति सुजुकी के मिनी सेगमेंट की कारों की बिक्री पिछले साल इसी अवधि में बिकी 11,577 यूनिट्स की तुलना में 49.1 फीसद से बढ़कर 17,258 यूनिट्स हुई। वहीं कॉम्पैक्ट सेगमेंट की बात की जाए तो WagonR, Swift, Celerio, Ignis, Baleno और Dzire की बिक्री जुलाई, 2019 में बिकी 57,512 यूनिट्स की तुलना में 10.4 फीसद घटकर 51,529 यूनिट्स हुई थी। कंपनी की कुल घरेलू बिक्री की बात की जाए तो जुलाई, 2020 में 97,768 यूनिट्स की बिक्री हुई जो कि पिछले साल जुलाई में बिकी 96,478 यूनिट्स की तुलना में 1.3 फीसद ज्यादा थी। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021