नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। चाइना पैसेंजर कार एसोसिएशन (CPCA) के मुताबिक फरवरी महीने में यात्री वाहनों की रिटेल बिक्री में करीब 92 फीसद की गिरावट देखने को मिली है। CPCA ने यह आंकड़ा पहले 16 दिनों के आधार पर जारी किया है। चीन में कोरोनावायरस का कहर इतना ज्यादा है कि लोग सड़कों पर उतरने से डर रहे हैं। इस वजह से फरवरी के सिर्फ 16 दिनों में 4,909 यूनिट्स की बिक्री हुई है, जबकि इससे बीते वर्ष समान अवधि में 59,930 पैसेंजर कारों की बिक्री हुई थी।

दुनिया के सबसे बड़े ऑटो बाजार में इस वायरस की मार कितनी ज्यादा है, इसे प्रदर्शित करने के लिए यह पहला बड़ा आंकड़ा है। फरवरी के पहले हफ्तों में बहुत कम डीलरशिप खोले गए हैं और उनके पास बहुत कम ही ग्राहक आए हैं। मुख्यभूमि चीन ने गुरुवार को कोरोनावायरस संक्रमण की 889 नई पुष्टि के मामले दर्ज किए हैं। मरने वालों की संख्या भी 118 से 2,236 हो गई है। और यह ज्यादातर वुहान की हुबेई प्रांतीय राजधानी में हुई है, जहां इसका प्रकोप शुरु हुआ था।

चीन के ऑटो बाजार में कोरोनावयरस महामारी के कारण वर्ष की पहली छमाही में बिक्री में 10 फीसदी से अधिक की गिरावट देखी जा सकती है और पूरे वर्ष के लिए लगभग 5 फीसदी, बशर्ते यह महामारी अप्रैल से पहले प्रभावी रूप से खत्म होना शुरू हो जाए। यह जानकारी चाइना एसोसिएशन ऑफ ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स (CAAM) ने पिछले हफ्ते रायटर को बताया है।

ये भी पढ़ें:

Honda Shine BS6 Vs Bajaj Pulsar 125, जानें कौनसी बाइक है आपके लिए बेहतर

जनवरी महीने में नए वाहनों की रिटेल बिक्री में आई 7.17 फीसद की गिरावट

Posted By: Ankit Dubey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस