नई दिल्ली (ऑटो डेस्क)। ऑटो इंडस्ट्री से जुड़ी तमाम कंपनियों ने 1 जनवरी 2018 से अपने मॉडल्स की कीमतों को बढ़ाने का फैसला किया है। ऐसे में नए साल से आम आदमी के लिए कार खरीदना महंगा हो जाएगा। आपको जानकारी के लिए बता दें कि मारुति से लेकर टोयोटा तक सभी ने अपने कार मॉडल्स की कीमतें 2 से 4 फीसद तक बढ़ाने की घोषणा की है। वही हुंडई भी जल्द कीमतें बढ़ाने की घोषणा कर सकती है। हालांकि लग्जरी कार कंपनियों जैसे मर्सिडीज बेंज, JLR, ऑडी और BMW की ओर से अपने वाहनों पर कीमतें बढ़ाने का किसी तरह का कोई बयान सामने नहीं आया है। आज हम आपको अपनी इस खबर में बताने जा रहे हैं किन कंपनियों की कार नए साल पर खरीदना आपके लिए महंगा होने जा रहा है।

हुंडई ने बढ़ाए 2% तक दाम:

हुंडई मोटर इंडिया ने अपने वाहनों की कीमतें 2 फीसद तक बढ़ाने का ऐलान किया है। नई कीमतें 1 जनवरी से लागू होंगी। हुंडई की गाड़ियों की रेंज ईओन (3.29 लाख रुपये) से शुरू होती है जो कि प्रीमिय SUV टूसों (25.19 लाख रुपये) तक जाती है।

Image result for hyundai jagran

कीतमें बढ़ाने का कारण:

HMIL के डायरेक्टर सेल्स एंड मार्केटिंग राकेशन श्रीवास्तव ने कहा, "हम इनपुट और मैटेरियर कॉस्ट में वृद्धि को अवशोषित कर रहे हैं जिसके चलते कीमतें 2 फीसद तक बढ़ाने का फैसला लिया है। बढ़ी हुई कीमतें अगले साल से लागू होंगी"

निसान इंडिया की कारें 15 हजार रुपये तक महंगी:

निसान ग्रुप ऑफ इंडिया ने किया है कि वह निसान और डेटसन रेंज के मॉडल्स की कीमतों में बढ़ोतरी कर देगी। कंपनी 1 जनवरी 2018 से निसान और डैटसन मॉडल्स की कीमतें 15,000 रुपये बढ़ा देगी।

कीमत बढ़ाने का कारण:

निसान मोटर इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर जिरोम सैगट ने कहा, "इनपुट और मैन्युफैक्चरिंग कॉस्ट में आ रही बढ़ोतरी के चलते निसान ने तय किया है कि वह निसान और डेटसन के सभी मॉडल्स की कीमतें 1 जनवरी 2018 से बढ़ा देगी।"

फॉक्सवैगन इंडिया ने बढ़ाए 20,000 रुपये तक:

फॉक्सवैगन इंडिया ने जनवरी 2018 से अपनी कारों के मॉडल्स पर 20,000 रुपये तक बढ़ाने का फैसला लिया है। इसमें कंपनी की एंट्री-लेवल फॉक्वैगन पोलो, एमियो, वेंटो, टिग्वॉन SUV और हाल ही में लॉन्च हुई पसात सेडान शामिल है।

Image result for volkswagen tiguan jagran

कीमतें बढ़ाने का कारण:

फॉक्सवैगन पैसेंजर कार्स के डायरेक्टर स्टेफ्फेन नैन ने कहा, "कई बाहरी आर्थिक कारकों के साथ-साथ वैश्विक कमोडिटी मूल्य और स्थानीय इनपुट लागत में उतार-चढ़ाव के कारण कीमत में वृद्धि आवश्यक है। यह प्रभाव भारत में मौजूद सभी प्रोडक्ट रेंज पर लागू होगा।"

रेनो ने बढ़ाए 3 फीसद तक दाम:

रेनो ने अपनी क्विड, डस्टर और लॉजी पर 3 फीसद तक दाम बढ़ा दिए हैं। हालाकि कंपनी ने अपनी प्रीमियम SUV कैप्चर के दामों में बढ़ोतरी की घोषणा नहीं की है। कारों की बढ़ी हुई कीमत 1 जनवरी 2018 से लागू होगी।

Image result for renault kwid jagran

कीमते बढ़ने का कारण:

महिंद्रा ने अपने एक बयान में कहा, "बढ़ाई गई कीमत क्विड, डस्टर और लॉजी पर लागू होंगी। इन कारों की कीमतें बढ़ते इनपुट और भाड़ा लागत के कारण बढ़ाई जा रही हैं।"

मारुति सुजुकी ने बढ़ाए 2 फीसद तक दाम:

देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (MSI) ने अपने सभी मॉडल्स पर 2 फीसद तक कीमतें बढ़ाने की घोषणा की है। कंपनी इस वक्त हैचबैक ऑल्टो 800 से लेकर क्रॉसओवर S-क्रॉस की बिक्री करती है। ऑल्टो 800 की शुरुआती कीमत 2.45 लाख रुपये है और S-क्रॉस की कीमत 11.29 लाख रुपये (एक्स शोरूम दिल्ली) है। कंपनी इसके अलावा लोकप्रिय मॉडल डिजायर, वैगन आर, स्विफ्ट, विटारा ब्रेजा और अर्टिगा भी तैयार करती है। अगर कंपनी अपनी कारों की कीमत में 2 फीसदी की बढ़ोतरी का फैसला करती है तो यह सभी मॉडल्स महंगे हो जाएंगे।

Image result for maruti suzuki dzire jagran

कीमतें बढ़ाने का कारण:

खबर के मुताबिक कंपनी के प्रवक्ता ने कहा है कि कार तैयार करने में जिन कमोडिटीज का इस्तेमाल होता है उनकी कीमतों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है, इसकी वजह से अभीतक कीमतों पर जो छोटा-मोटा असर आ रहा है उसको तो कंपनी झेल रही थी लेकिन कमोडिटीज की कीमतों में बढ़ोतरी ज्यादा हो चुकी है ऐसे में इसका बोझ ग्राहकों पर डालना जरूरी है, उन्होंने कहा कि जनवरी से कार की कीमतों में 2 प्रतिशत की बढ़ोतरी हो सकती है।

फोर्ड ने बढ़ाए 4 फीसद तक दाम:

फोर्ड इंडिया ने घोषणा की है कि वह जनवरी 2018 से अपनी कारों की कीमतें 4 फीसद तक बढ़ा देगी। बढ़ाई गई कीमतें फोर्ड के सभी उत्पादों पर लागू होंगी। हाल ही में लॉन्च की गई फोर्ड ईकोस्पोर्ट की शुरुआती कीमत 7,31,200 रुपये है जो कि जनवरी 2018 से वेरिएंट्स के हिसाब से 30,000 रुपये तक बढ़ जाएगी।

Image result for ford jagran

कीमतें बढ़ाने का कारण:

फोर्ड इंडिया में सेल्स एंड सर्विस के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर (मार्केटिंग) विनय रैना ने कहा, "कमोडिटी की कीमतों में लगातार उतार-चढ़ाव, बढ़ती इनपुट और भाड़ा लागत जैसे कारकों की वजह से गाड़ियों के मूल्यों में वृद्धि आवश्यक है। कंपनी ने इन वृद्धिशील लागतों के एक बड़े हिस्से को अवशोषित करके और कीमतों में वृद्धि को 4 फीसदी तक कैप करके ग्राहकों के प्रभाव को कम करने की कोशिश की है।"

टाटा मोटर्स की कारें होंगी 25,000 तक महंगी:

टाटा मोटर्स ने घोषणा की है कि वह जनवरी 2018 से अपने यात्री वाहनों की कीमतों में 25,000 रुपये तक की बढ़ोतरी कर देगी। कंपनी टियागो, हेक्सा, टिगोर और नेक्सन मॉडल की कीमतों में बढ़ोतरी करेगी।

Image result for tata nexon jagran

कीमते बढ़ाने का कारण:

टाटा मोटर्स, पैसेंजर व्हीकल बिजनेस के प्रेसिडेंट मयंक पारिख ने कहा, "बदलते बाजार की स्थिति, बढ़ते इनपुट लागत और विभिन्न बाहरी आर्थिक कारकों ने हमें मूल्य वृद्धि पर विचार करने के लिए मजबूर किया है।"

कंपनी के मुताबिक हाल ही में टाटा मोटर्स की ओर से लॉन्च की कॉम्पैक्ट SUV नेक्सन की प्रारंभिक कीमतें दिसंबर 31 तक समाप्त हो जाएंगे और यह पूरी रेंज जनवरी 2018 से 25,000 रुपये तक महंगी हो जाएंगी।

जीप कंपास की कीमत 80,000 रुपये महंगी:

फिएट क्रिस्लर ऑटोमोबाइल इंडिया ने अपनी प्रीमियम SUV जीप कंपास पर 80,000 रुपये तक बढ़ाने का फैसला किया है। बढ़ी हुई कीमत 1 जनवरी से लागू की जाएंगी। जीप कंपास के एंट्री लेवल वेरिएंट की कीमत 15.16 लाख रुपये (एक्स शोरूम दिल्ली) है।

Image result for jeep compass jagran

FCA इंडिया के प्रेसिडेंट और मैनेजिंग डायरेक्टर केविन फ्लिन ने एक बयान में कहा, "ग्राहकों ने जीप कंपास के लॉन्च के बाद से ही इसकी प्रतिस्पर्धी कीमत की सराहना की है। बढ़ी हुई कीमतें 1 जनवरी 2018 से लागू होंगी और कीमतों में 2 से 4 फीसद की बढ़ोतरी होगी। हालांकि एंट्री लेवल वेरिएंट की कीमत में कोई बढ़ोतरी नहीं होगी।"

टोयोटा ने बढ़ाए 3% तक दाम:

Image result for toyota altis jagran

टोयोटा किर्लोस्कर मोटर ने भी गुरुवार को अपने विभिन्न कार मॉडलों की कीमत में बढ़ोतरी करने का एलान किया। कंपनी जनवरी से कारों के दामों में तीन फीसद तक की बढ़ोतरी करेगी। टोयोटा ने इसके लिए इनपुट कॉस्ट और माल भाड़े की वृद्धि को जिम्मेदार ठहराया है। यह कंपनी हैचबैक इटियोस लीवा से लेकर लैंड क्रूजर तक बेचती है। कीमत में बढ़ोतरी के बाद मॉडल्स के हिसाब से कारों के दाम 5,000-1.1 लाख रुपये बढ़ जाएंगे।

इसुजु ने भी बढ़ाई 4% तक कीमतें:

Image result for isuzu jagran

इसुजु मोटर इंडिया ने भी अपनी कारों की कीमतें बढ़ाने की घोषणा की है। कंपनी 1 जनवरी 2018 से अपने पिक-अप ट्रक्स और SUV मॉडल रेंज की कीमतें 3 से 4 फीसद तक बढ़ा देगी। कीमतों में बढ़ोतरी के बाद इसुजु की गाड़ियां 15,000 रुपये से लेकर 1 लाख रुपये तक महंगी हो जाएगी। जिसमें इसुजु डी-मैक्स से लेकर MU-X एसयूवी शामिल हैं।

इन कंपनियों ने भी बढ़ाए दाम:

Image result for honda cars jagran

होंडा कार्स इंडिया ने भी कहा कि वह 1 से 2 फीसद तक या फिर 25 हजार रुपये तक कीमतों में बढ़ोतरी करेगी। वहीं, महिंद्रा एंड महिंद्रा भी अपने पैसेंजर व्हीकल्स और कमर्शियल व्हीकल्स पर 3 फीसद तक अपने मॉडल्स की कीमतों में बढ़ोतरी कर देगी। स्कोडा ऑटो ने अपनी कारों के दामों में 2-3 फीसद की बढ़ोतरी का एलान किया है, जिसमें 14,000-50,000 रुपये तक कीमत बढ़ जाएगी।

Posted By: Ankit Dubey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप