नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। पूरी दुनिया इस समय Coronavirus महामारी से निपटने के लिए प्रयास कर रही है। इसी बीच देश में 21 दिनों का लॉकडाउन कर दिया गया है और अब देश की जानी-मानी ऑटोमोबाइल कंपनी Bajaj ग्रुप कोरोना वायरस के प्रकोप से निपटने के लिए 100 करोड़ रुपये की राशि का वादा किया है। बजाज ग्रुप सरकार और कई एनजीओ के साथ मिलकर स्वास्थ्य सुविधाओं, भोजन और शेल्टर प्रदान करने और ग्रामीण क्षेत्रों में आर्थिक सहायता के लिए काम करेगी।

देश में अब तक 650 से अधिक लोगों में COVID-19 पाया गया है और अब तक देश में इसकी वजह से 16 लोगों की जान जा चुकी है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 24 मार्च को Coronavirus को फैलने से रोकने के लिए 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की थी। Bajaj Group ने COVID-19 से लड़ने के लिए कदम रखा है। पुणे बेस्ड कंपनी होने के चलते Bajaj Group हेल्थ सर्विस इंफ्रास्ट्रक्चर को बढ़ाने में मदद करने के लिए काम करेगा जो कि कोरोनावायरस को फैलने से रोकने लिए बहुत जरूरी है। बजाज ने प्राइवेट सेक्टर हॉस्पिटल और सरकारी हॉस्पिटल का पता लगाया है जहां ICU को अपग्रेड करने में सपोर्ट किया जाएगा और रोगियों के लिए वेंटिलेटर और हेल्थ कर्मचारियों, डॉक्टरों, नर्सों और अन्य हेल्थ कर्मचारियों के लिए सेफ्टी उपकरण की जरूरत पड़ेगी। साथ ही साथ बजाज पुणे में पिंपरी-चिंचवाड़ और पुणे के ग्रामीण इलाकों में COVID-19 के लिए सेटअप आइसोलेशन यूनिट और टेस्टिंग सर्विस को बढ़ाने में भी मदद करेगी।

बजाज ऑटो ने Coronavirus के चलते पंतनगर (उत्तराखंड) और महाराष्ट्र में स्थित अकुर्दी, वालुज, चाकन प्लांट में परिचालन को रोका हुआ है। साथ ही बजाज ऑटो ने कहा कि कंपनी ने ऑफिस-बेस्ड स्टाफ के लिए वर्क फ्रॉम होम की सुविधा को लागू किया है। 

Posted By: Sajan Chauhan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस