नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। ऑटो एक्सपो 2020 फरवरी में आयोजित होने जा रहा है और इस बार गाड़ियों का यह मेला थोड़ा सूना-सूना होने जा रहा है। हर दो साल बाद आयोजित होने वाले ऑटो एक्सपो में इस बार फिर कई देसी-विदेशी कंपनियों ने हिस्सा लेने से मान कर दिया है। इससे पहले ऑटो एक्सपो 2018 में भी देश की दिग्गज टू-व्हीलर कंपनी रॉयल एनफील्ड और जर्मनी की कार निर्माता कंपनी फॉक्सवैगन ग्रुप ने हिस्सा नहीं लिया था। इस बार भी कुछ ऐसा ही होने जा रहा है। ऐसे में कई कंपनियों का मानना है कि ऑटो सेक्टर में चल रही मंदी की वजह से वो हिस्सा नहीं ले रही हैं। हालांकि, कुछ कंपनियों के चलते इस बार के ऑटो एक्सपो में नए वाहनों का जलवा देखा जाएगा, जिनमें कुछ हाल ही में भारतीय बाजार में आई हैं और कुछ आने वाली हैं।

ईटी ऑटो में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार 7 से 12 फरवरी तक आयोजित होने वाले ऑटो एक्सपो 2020 में कई देसी-विदेशी कंपनियों ने हिस्सा लेने से मना कर दिया है। इन कंपनियों में फोर्ड, फिएट, होंडा कार्स, बीएमडब्ल्यू, कमर्शियल व्हीकल निर्माता अशोक लीलैंड और टू-व्हीलर कंपनी हीरो मोटोकॉर्प शामिल हैं। अब इनका एक यह भी कारण है कि इन कंपनियों ने अपने मॉडल्स पहले ही लॉन्च कर दिए हैं या फिर उनकी जानकारी पहले से ही ऑनलाइन उपलब्ध हो गई है।

इसके अलावा जो कंपनियां ऑटो एक्सपो में हिस्सा लेंगी उनमें चीन की सबसे बड़ी एसयूवी और पिकअप ट्रक निर्माता कंपनी ग्रेट वॉल मोटर्स, फॉक्सवैगन और स्कोडा होंगी। रिपोर्ट के मुताबिक मारुति सुजुकी और हुंडई एक्सपो में हिस्सा लेकर अपने नए प्रोडक्ट्स का प्रदर्शन करेंगी।

इसके अलावा ऑटो एक्सपो में आने वाले दर्शकों के लिए राहत की खबर यह भी है कि हाल ही में भारतीय बाजार में कदम रखने वाली ऑटो कंपनियां अपने फ्यूचरिस्टिक प्रोडक्ट्स की पेशकश करेंगी और इनमें किआ मोटर्स और एमजी मोटर्स शामिल हैं।

ये भी पढ़ें:

मारुति सुजुकी सिर्फ त्योहारी सीजन तक दे रही है गाड़ियों पर भारी डिस्काउंट

पहली छमाही में यात्री वाहनों का निर्यात 4 फीसद बढ़ा, हुंडई ने मारी बाजी

Posted By: Ankit Dubey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप