नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। ट्रैफिक चालान कटने का किसी के ऊपर कितना असर पड़ सकता है इसकी मिसाल मेरठ में देखने को मिली है। दरअसल इन दिनों ट्रैफिक नियमों को तोड़ने पर ट्रैफिक पुलिस लोगों का 10 गुना तक ज्यादा ट्रैफिक चालान काट रही है। ऐसे में लोग ट्रैफिक पुलिस के डर से ट्रैफिक नियमों का सख्ती से पालन कर रहे हैं, लेकिन आज हम आपको एक ऐसी घटना के बारे में बताने जा रहे हैं, जो आपको हैरान कर देगी। दरअसल मेरठ में ट्रैफिक चालान को लेकर पुलिस और बिजली विभाग आमने सामने आ गए। इसके चलते पुलिस चौकी में 5 घंटे के लिए बिजली काट दी गई।

हेलमेट और PUC के कारण कटा JE का चालान

दरअसल उत्तर प्रदेश के मेरठ में तेजगढ़ी पुलिस चौकी के पास पुलिस वाहनों की चेकिंग कर रही थी। इसी दौरान JE सोम प्रकाश अपनी स्कूटी से जा रहे थे, जहां पुलिस की तरफ से उन्हें चेकिंग के लिए रोका गया। सोम प्रकाश ने DL, RC समेत सभी कागज दिखाए, लेकिन इस दौरान उनके पास पलूशन सर्टिफिकेट और हेलमेट नहीं था। इसके बाद वहां मौजूद पुलिस इंस्पेक्टर हेल्मेट और पलूशन सर्टिफिकेट नहीं होने के कारण JE की स्कूटी का चालान काट दिया।

JE ने क्यों नहीं पहना था हेलमेट?

JE सोम प्रकाश के मुताबिक उसके सिर में एलर्जी हो रखी है, जिसकी वजह से उन्होंने हेलमेट नहीं पहना था। JE ने इस दौरान पुलिस से ट्रैफिक चालान न काटने को कहा, लेकिन वहां मौजूद इंस्पेक्टर ने सबसे लिए एक कानून की बात कही। इस दौरान दोनों के बीच नोकझोंक भी हुई।

JE ने लिया बदला

चालान कटने के बाद फिर JE ने अपने डिपार्टमेंट के नियमों का पालन करना शुरू किया। JE ने संबंधित थाने और अपने इलाके की पुलिस चौकी का बिजली कनेक्शन काट दिया। इसके बाद पुलिस को पांच घंटे तक बिना बिजली के रहना पड़ा।

क्यों काटी बिजली

इस मामले पर एग्जिक्यूटिव इंजीनियर सोनू रस्तोगी की तरफ से बताया गया कि बिजली के बकाया बिल के कारण बिजली काटी गई थी।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस