नई दिल्ली(जेएनएन)। फॉक्सवेगन ने अपनी नई पोलो को फ्रंकफर्ट मोटर शो-2017 के दौरान दुनिया के सामने पेश किया। सोर्स बताते हैं कि नई पोलो को सबसे पहले यूरोपियन मार्केट में उतारा जाएगा, इसके बाद अमेरिकन और एशियन देशों में उतारा जाएगा। भारत में नई पोलो को साल 2018 के अंत तक लॉन्च किया जा सकता है।

क्या है खास नई पोलो में
नई पोलो 2018 के लुक्स में इस बार काफी बदलाव देखने को मिलते हैं। इसकी आगे वाली ग्रिल, हैडलैंप्स में जाकर अच्छे से मिल जाती है, ग्रिल के बीच में फॉक्सवेगन का लोगो दिया हुआ है। नई पोलो में ट्रिपल बैरल हैडलैंप्स दिए गए हैं। संभावना है कि इस में एलईडी डे-टाइम रनिंग लाइटें, एलईडी हैडलाइटें और एलईडी टेललाइटें आ सकती हैं। नई पोलो की कद-काठी को भी बढ़ाया गया है, इस वजह से इसके केबिन में पहले से ज्यादा जगह मिलेगी। नई पोलो को फॉक्सवेगन के फ्लेक्सिबल एमक्यूबी प्लेटफार्म पर तैयार किया जाएगा, यह पहले से करीब 70 किलोग्राम कम वजनी और इसका माइलेज पहले से ज्यादा होगा।

मारुति बलेनो और हुंडई आई20 से होगा मुकाबला
नई पोलो का आमना-सामना मारुति बलेनो और हुंडई आई20 से होगा मुकाबला, इस समय ये दोनों ही कारें अपने सेगमेंट में सबसे ज्यादा बिकने वाली कारों में शुमार हैं। पिछले महीने के आंकड़ो की माने तो मारुति सुजुकी ने बलेनो की 14,538 यूनिट्स बेचीं थी जबकि हुंडई ने आई 20 की 9,484 यूनिट्स बेचीं थी बलेनो की कीमत 5.15 लाख रुपये से शुरू होती है जबकि हुंडई आई 20 की कीमत 5.35 लाख रुपये से शुरू होती है।

 

Posted By: Bani Kalra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप