नई दिल्ली, अंकित दुबे। Jaguar Land Rover अप्रैल महीने से ही अपनी Range Rover Velar की लोकल असेम्बली शुरू कर दी थी और कंपनी अब भारतीय बाजार में मेड-इन-इंडिया Velar की बिक्री कर रही है। इसी कड़ी में हमने भी 2019 Velar P250 R-Dynamic S अपनी टेस्ट ड्राइव के लिए इस्तेमाल की और कुछ दिनों तक इसे इस्तेमाल करने के बाद हमें यह तो अहसास हुआ ही कि पेट्रोल इंजन के साथ इस गाड़ी की परफॉर्मेंस काफी दमदार है। साथ ही कंपनी ने इसमें टेक्नोलॉजी की भी कोई कसर नहीं छोड़ी है। खैर, ये तो शुरुआत है हम आपको अपने इस पूरे रिव्यू में बताएंगे कि आखिर Range Rover Velar P250 में आपको क्या कुछ मिलता है? इसकी परफॉर्मेंस कैसी है? और कहां यह गाड़ी निराश करती है?

रिव्यू शुरू करने से पहले बता दें मेड-इन-इंडिया Velar होने के चलते इसकी कीमतों में करीब 25 लाख रुपये की कटौती हो गई है। यानी इससे पहले इसका CBU मॉडल करीब 1 करोड़ के आस-पास ऑन-रोड पड़ता था, लेकिन अब ये पावरफुल होने के साथ-साथ किफायती भी हो गई है। भारतीय बाजार में अब इसकी कीमत 72.47 लाख रुपये (एक्स शोरूम) है।

इस एसयूवी का रिव्यू करते समय यह तय करना मुश्किल है कि इसे कहां से शुरू किया जाए? इसलिए हम इसके नाम से शुरू करते हैं। "वेलार" एक ऐसा नाम है जो काफी शक्तिशाली और आधिकारिक है, यह आत्मविश्वास और एक बल के साथ माना जाता है। वेलार को लैटिन क्रिया वेलेयर से प्राप्त किया गया एक शब्द है, जिसका अर्थ है छिपाना। विडंबना यह है कि यह एक नया नाम नहीं है और कंपनी के लिए अपरिचित भी नहीं है। यह नाम उस समय से आता है जब रोवर अब भी प्रसिद्ध रेंज रोवर के निर्माण पर काम कर रहा था। वर्ष 1969 की बात करें तो वेलार नाम जैगुआर लैंड रोवर की प्री-प्रोडक्शन फर्स्ट जनरेशन रेंज रोवर्स के लिए इस्तेमाल किया गया था। लगभग पांच दशकों बाद, वेलार को अब इन दिनों देखा जा रहा है और यह कंपनी की नेक्स्ट जनरेशन डिजाइन भाषा और कंपनी की तकनीकी शक्ति को आगे बढ़ाता है। यहीं पर इसके संक्षिप्त इतिहास के बारे में खत्म करते हुए इसके नए डिजाइन में क्या है अब उसके बारे में बात करते हैं।

अब इसके लुक्स और डिजाइन की बात करें तो इसकी बॉडी पर स्मूथ लाइन्स हैं और यह स्पोर्टिनेस और परफॉर्मेंस के बारे में बयां करती नजर आती है। सबसे खास इसमें दिए गए खूबसूरत फ्लश वाले डोर हैंडल्स हैं, जो नाटकीय रूप से खुलते हैं। कुल मिलाकर वेलार में काफी आक्रामक और प्यारा डिजाइन दिया गया है। इसके अलावा यह एसयूवी का कुल अनुपात एक रूफलाइन के साथ काफी खूबसूरती से एकीकृत किया गया है। कुल मिलाकर इसका डिजाइन कुछ ऐसा दिया गया है, जो पुरानी बॉक्सी स्टाइल वाली रेंज रोवर्स को परे करता है। इसके अलावा इसकी फ्रंट पर बड़ी ग्रिल के साथ DRL's और मस्कुलर लुक देखने को मिलता है। यानी आपको इस एसयूवी में काफी सारी ऐसी खूबियां दिखती हैं जो आप एक लग्जरी एसयूवी में चाहते हैं।

रेंज रोवर वेलार बाहर से दिखने में ही फ्यूचरिस्टिक नहीं लगती। बल्कि, इसका इंटीरियर भी एक फ्यूचरिस्टिक और प्रैक्टिकल नजर आता है। इसका इंटीरियर काफी लग्जरी फील तो देता ही है, लेकिन इसमें हार्ड प्लास्टिक का भी कंपनी ने इस्तेमाल किया है। इसके अलावा स्टीयरिंग माउंटेड कंट्रोल्स भी टच फील के साथ आते हैं। पर, इनके इस्तेमाल में आपको थोड़ा समय लगता दिखाई देगा। वेलार में आपको दो तरह की टचस्क्रीन इन्फोटेनमेंट डिस्प्ले मिलती है, जिसके चलते इसका स्टाइल काफी प्यारा लगता है और ये काफी फ्रेश और नए लुक के साथ आती है। इसके अलावा ये कार की सेटिंग्स और कम्यूनिकेशन्स को भी कंट्रोल करता है।

दूसरी डिस्प्ले एसयूवी के सेंटर कंसोल के नीचे दी गई है जिससे आप एयरकॉन सिस्टम, ड्राइविंग मोड्स और म्यूजिक प्ले-लिस्ट के ट्रैक्स को मैनेज कर सकते हैं। कुल मिलाकर वेलार का कॉकपिट एक भव्य रूप से लो सीटिंग पॉजिशन में ड्राइवर-फोकस्ड है। यहां हमें जो जिस चीज से निराशा मिलती है वो वेलार के सेंटर कंसोल पर मिलने वाला पियानो ब्लैक फिनिश है, जिसे हम पसंद नहीं करते। इसके अलावा हमें सबसे ज्यादा निराशाजनक यह चीज लगी कि कंपनी इसके इन्फोटेनमेंट सिस्टम में एप्पल कारप्ले और एंड्रॉयड ऑटो ऑफर नहीं कर रही, जो इस सेगमेंट की सभी लग्जरी गाड़ियों में मिलता है। कंपनी ने इसमें अपनी लैंड रोवर की Incontrol एप्स दे रही है।

डिस्प्ले और सेंटर कंसोल पर फिंगरप्रिंट मैग्नेट्स हैं और भारतीय सड़कों पर धूल इतनी ज्यादा होती है जिसकी वजह से पियानो ब्लैक फिनिश बहुत जल्दी गंदा हो जाता है और अगर यहां ज्यादा धूल होने के चलते फिनिशिंग पर खरोंच भी आ सकती है। इस एसयूवी की सभी सीटें काफी आरामदायक हैं। फ्रंट और रियर पैसेंजर वालों के लिए खुद का क्लाइमेट कंट्रोल यूनिट भी दिया गया है यानी इसमें 4-जोन क्लाइमेट कंट्रोल दिया गया है। इसके अलावा इसकी फ्रंट सीटें 10 तरीकों से एडजस्ट हो सकती हैं और इसमें मेमोरी फंक्शन भी दिए गए हैं।

रोवर वेलार P250 SE में 1997cc पेट्रोल मोटर इंजन लगा जो 250hp की पावर और 365Nm का टॉर्क जनरेट करता है। दिल्ली जैसे ट्रैफिक भरे शहरों में वेलार को चलाने से भी किसी तरह की कोई परेशानी नहीं होती। इसकी परफॉर्मेंस काफी स्मूथ है, जिससे आप कभी भी महसूस नहीं करेंगे कि स्पीड के बावजूद भी आपको पावर का कम एहसास हो रहा है। शांत इंजन के साथ इसे चलाने में आपको काफी मजा आएगा। इतना ही नहीं, इसकी परफॉर्मेंस तो दमदार है ही साथ ही अगर आप इसके साथ ऑफ-रोड या फिर ऑन-रोड कहीं भी जाते हैं तो आपको ये एक मजेदार ड्राइव का अनुभव देती है।

वेलार का टर्निंग रेडियस भी काफी अच्छा है और इसमें किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं आती। ड्राइविंग के लिए इसमें इनमें डायनामिक स्टेबिलिटी कंट्रोल, इलेक्ट्रॉनिक ट्रैक्शन कंट्रोल, स्पीड प्रोपोर्शनल इलेक्ट्रॉनिक पावर असिस्टेड स्टीयरिंग आदि शामिल हैं। इसके अलावा ऑफ-रोडिंग के लिए इसमें ऑल टेर्रेन प्रोग्रेस कंट्रोल (ATPC) भी दिया है। इसके अलावा 8-स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन इंजन के साथ अच्छी तरह से मिलकर काम करता है। इसके साथ ही इसे आप मैनुअल मोड पर पैडल शिफ्टर के साथ भी चला सकते हैं। डायनामिक और ईको के साथ आप इसे शहरों में चला सकते हैं और ईको मोड पर वेलार ज्यादा माइलेज देने का वादा करती है। वहीं, स्पोर्ट मोड पर ये काफी आक्रामक हो जाती है और आपको किसी स्पोर्ट्स कार से कम नहीं लगती। कुल मिलाकर इसका इंजन काफी दमदार है और अगर आप पिछली सीट पर राइड करना चाहते हैं तो आपको यहां काफी आराम मिलता है।

हमारा फैसला

दिखने में ये काफी फ्यूचरिस्टिक लुक देती है और साथ ही इसमें काफी सारी लेटेस्ट टेक्नोलॉजी मिलती है। मगर, इसमें आपको एंड्रॉयड ऑटो और एप्पल कारप्ले की कमी महसूस होगी। कुल मिलाकर ये पेट्रोल इंजन के साथ इसकी परफॉर्मेंस काफी बेहतर है और कंपनी ने इसे भारतीय सड़कों को ध्यान में रखते हुए तैयार किया है। चलाने में जितनी बेहतर ये एसयूवी लगती है, उतनी ही सड़कों पर चलते हुए दिखने में भी लगती है। इसलिए अगर आप इन दिनों एक ऐसी लग्जरी एसयूवी की तलाश कर रहे हैं जो जिसका लुक दिखने में बेहतर तो हो ही साथ ही चलाने में भी काफी मजेदार हो, तो आप निश्चित रूप से इसे अपने घर ला सकते हैं। 

Posted By: Ankit Dubey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप