नई दिल्ली, अंकित दुबे। आपके हाथ अगर कोई ऐसी लग्जरी एसयूवी लग जाए, जिसके एक्सेलेरेटर पर आप अपने सीधे पैर का पंजा रखते ही इलेक्ट्रिक मोटर के साथ मिलने वाली तेजतर्रार रफ्तार आपको अपना दीवाना बना दे, तो कैसा लगेगा ? मैं किसी M बैज, RS या AMG की बात नहीं कर रहा हूं। पर हां, एक H बैज जरूर है, जिसका मतलब है हाइब्रिड और मैं बात कर रहा हूं जापानी कार निर्माता कंपनी की एंट्री लेवल कॉम्पैक्ट एसयूवी Lexus NX300h की, जिसका हम आपके लिए रिव्यू करने जा रहे हैं।

वैसे गाड़ी को लॉन्च हुए तीन साल का वक्त हो चुका है। कई सारी चीजें इसमें काफी बेहतरीन हैं, पर कुछ कमियां भी जरूर हैं। तो शुरुआत हम इसके डिजाइन से करते हैं। Lexus NX300h में वही समान ट्रेडिशनल Lexus डिजाइन एलिमेंट्स देखने को मिलते हैं। स्पिंडल शेप्ड ग्लोस ब्लैक ग्रिल और L-शेप्ड LED DRLs इसे काफी खूबसूरत बनाते हैं। कार में स्पोर्टी अपील के साथ शार्प लाइन्स देखने को मिलती हैं। साइड में 18-इंच के एलॉय व्हील्स मिलते हैं जो ब्लैक और कॉपर कलर में आते हैं। रियर में भी LED टेल लाइट्स के साथ पूरा डिजाइन काफी आक्रामक और आकर्षक लगता है।

इंटीरियर

अपने बड़े भाई RX450h की तरह NX300h में भी बड़ा स्पोर्टी डैशबोर्ड मिलता है जो काफी बेहतरीन लगता है। सेंटर कॉन्सोल में बड़ा 10.3 इंच का टचस्क्रीन मिलता है, जिसे आप टचपैड के जरिए कंट्रोल कर सकते हैं। शुरुआत में भले ही थोड़ी सी दिक्कत हो इसे समझने में पर आप इसे चलाने के जल्द ही यूज टू हो जाते हैं। इन्फोटेनमेंट सिस्टम में आपको काफी सारी जानकारी मिलती हैं और इसके साथ जुड़ा हुआ 12 स्पीकर्स का मार्क लेविनसन का साउंड सिस्टम काफी बेहतरीन काम करता है। CD प्लेयर का भी ऑप्शन इसमें मिलता है। पर, इन दिनों CD प्लेयर कौन इस्तेमाल करता है? आप करते हैं?

डैश के बीच में एनालॉग डायल भी काफी क्लीन और रेट्रो लुक देता है। फ्रंट रो पर इलेक्ट्रिक स्टीयरिंग और सीटें मिलती हैं जो मेमोरी फंक्शन के साथ आती हैं। पर अगर आप इसका इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर देखते हैं जिसे MID स्क्रीन भी कहा जाता है, तो ये काफी आउटडेटेड लग रही है। इस समय Toyota Innova में भी समान स्क्रीन का इस्तेमाल किया जा रहा है। अंदर बैठकर आपको चारों तरफ बाहर की विजिबिलिटी भी अच्छी मिल जाती है। सेंटर कंसोल पर काफी सारे बटन्स मिल जाते हैं और कुछ इसके स्टीयरिंग व्हील के पीछे जहां पहुंचना थोड़ा मुश्किल सा लगता है। कुल मिलाकर केबिन में हाई प्रैक्टिकेलिटी और कंफर्ट देखने को मिलता है। और हां, हर जगह आपको सॉफ्ट टच मैटेरियल का इस्तेमाल काफी प्यारा लगता है।

पिछली सीटों पर आते हैं तो यहां भी आपको बढ़िया लेगरूम, हेडरूम और शोल्डर रूम मिल जाता है। पर इसका जो फ्लोर थोड़ा ऊंचा है, इसी वजह से अंडर थाई सपोर्ट कम नजर आ रहा है। 6 फीट लंबे व्यक्ति के लिए यहां थोड़ी दिक्कत हो सकती है। साथ ही एक चीज और यहां आपको कोई भी USB चार्जर नहीं मिलता। ग्लास रूफ और सीटों पर मिलने वाला कूलिंग फंक्शन प्रीमियम फील कराता है।

फीचर्स की बात करें तो इसमें आपको 8 एयरबैग्स, हेड अप डिस्प्ले, बड़ी पैनोरामिक सनरूफ, वायरलेस चार्जर, डुअल जोन क्लाइमेट कंट्रोल, 360-डिग्री कैमरा, हीटेड स्टीयरिंग व्हील और इलेक्ट्रॉनिकली फोल्डिंग रियर सीटें मिलती हैं।

गाड़ी चलाने से पहले इसके बूट स्पेस की बात करें तो यहां आपको 475 लीटर का बूट स्पेस मिलता है। पर यहां, बूट के नीचे बैटरी पैक लगाई गई है, जिसके चलते आपको यहां लगैज रखने के लिए थोड़ी कसरत करनी पड़ेगी।

हाइब्रिड टेक्नोलॉजी और परफॉर्मेंस

NX300h में सिर्फ और सिर्फ एक ही पावरट्रेन का ऑप्शन दिया गया है। इसमें 2.5 लीटर, 4-सिलेंडर पेट्रोल इंजन दिया है, जिसके साथ दो इलेक्ट्रिक मोटर भी काम करती हैं। सिर्फ पेट्रोल इंजन 5,700rpm पर 152 bhp की पावर देता है और 4,200-4,400rpm पर 210 Nm का टॉर्क जनरेट करता है। पर इसमें मिलने वाली दो मोटर्स पेट्रोल इंजन के साथ मिलकर 195 bhp की पावर और 300 Nm का टॉर्क देता है। इंजन ई-CVT ट्रांसमिशन के साथ आता है और ये फ्रंट व्हील्स पर पावर सप्लाई करता है। हालांकि मोटर प्रत्येक एक्सल पर लगाई गई है। कुल मिलाकर इसकी मैकेनिज्म काफी बेहतरीन है और होगी भी क्यों नहीं टोयोटा की हाइब्रिड टेक्नोलॉजी में विशेषज्ञता जबरदस्त है। इसी विशेषज्ञता के चलते NX300h का ARAI माइलेज 18 kmpl है। आपको शहरों में 12-13 Kmpl के आसपास और हाईवे पर 15-16 Kmpl के बीच मिल जाता है।

स्लो स्पीड यानी 20-30 kmph पर हल्के थ्रोटल इनपुट के साथ हाइब्रिड टेक्नोलॉजी काफी बेहतरीन काम करती है और इसमें सिर्फ इलेक्ट्रिक मोटर का ही अहम योगदान रहता है। ब्रेक लगाते ही रिजनरेशन सिस्टम बैटरी को बिना किसी रुकावट के चार्ज कर देती है। और जैसे ही आप इसे एक दम तेज चलाते हैं तो सिर्फ पेट्रोल इंजन ही पावर नहीं देता, बैटरीज भी चार्ज होती रहती हैं। तीन ड्राइविंग मोड्स - Eco, Sports और Sports+ मिलते हैं। हालांकि, स्पोर्ट्स और स्पोर्ट्स प्लस में आपको ज्यादा अंतर देखने को नहीं मिलता। ईको में आप बढ़िया माइलेज हासिल कर सकते हैं और स्पोर्ट्स मोड पर एक तेजतर्रार फन-टू-ड्राइव का आनंद उठा सकते हैं। इस मोड पर स्टीयरिंग भी थोड़ा भारी हो जाता है और सस्पेंशन भी इलेक्ट्रॉनिकली थोड़े कठोर हो जाते हैं। तेज स्पीड हो या कम NX300h में आपको एक बेहतरीन ड्राइव का अनुभव मिलता है।

हमारा फैसला

Lexus NX300h चलाने के अलावा आराम के मामले में भी काफी बेहतरीन कॉम्पैक्ट एसयूवी है। इसमें शार्प स्टाइलिंग और स्पोर्टी इंटीरियर मिलता है। पर इंजन ऑप्शन आपको इसमें सिर्फ एक ही मिलता है। डीजल इंजन नहीं है। पर हाइब्रिड टेक्नोलॉजी के आप दीवाने जरूर हो जाएंगे। भारतीय बाजार में इसकी कीमत करीब 60 लाख रुपये (एक्स-शोरूम) है। इसका मुकाबला Range Rover Evoque, Audi Q5, Volvo XC60 और BMW X4 से है, जो हाईब्रिड टेक्नोलॉजी के साथ नहीं आती।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप