नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। टायरों को देखने के बाद मन में सवाल उठता है कि सफेद रंग की रबर से बनने वाले टायरों के रंग काले ही क्यों होते हैं। क्योंकि, कलर को लेकर वैसे भी लोग काफी सेंस्टिव होते हैं। मात्र कलर के चलते कई बार तो लोग लंबे वेटिंग पीरियड के बावजूद भी गाड़ी को बुक करते हैं। लेकिन ऐसी क्या वजह कि टायरों की रंग काले ही होते हैं। टायरों के रंग से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण बातों के बारे में इस खबर के माध्यम से आपको बताने जा रहे हैं।

इस वजह से होते हैं टायर रंग काले?

टायर बनाने की विधि के चलते टायरों के रंग काले हो जाते हैं। क्योंकि, टायरों को ड्योरेबिलिटी और मजबूती देने के लिए रबर में कार्बन ब्लैक मिलाया जाता है। कार्बन ब्लैक का रंग काला होता है, जिससे टायर बनाते समय रबर का रंग भी काला हो जाता है। बहुत ही कम लोगों को इस बात की सही जानकारी होगी कि आखिर सफेद रबर के इस्तेमाल से बनने वाले टायर का रंग काला क्यों होता है। आपको जानकारी के लिए बता दें, 125 साल पहले जब पहले रबर टायर का प्रोडक्शन किया गया तो इसे सफेद रंग का बनाया गया था, जिस रबर का इस्तेमाल इसको बनाने के लिए किया वो दूधिया सफेद रंग की थी।

काले रंग के सड़कों का होना

टायर और सड़क का कलर काले रंग का इसलिए भी रखा गया है, ताकि जब गाड़ी सड़क पर चले और घिसे तो उसका कलर न बदले। अगर कलर बदलता है तो इसका सीधा असर गाड़ी के लुक पर जाता है। मान लिजिए आपने मेहनत करके अपने सारी जमा पूंजी को इकट्ठा करके आपने नई कार खरीदे और कुछ दिन चलने के बाद उस गाड़ी के टायर का कलर बदलने लगे और गाड़ी देखने में भद्दी लगने लगे तो आपको काफी बुरा लगेगा। यही वजह है कि टायरों के कलर काले रंग के बनाए जाते हैं। हालांकि, इसकी पीछे कई विज्ञानिक तथ्य भी शामिल हैं, जिसका जिक्र हमने इस खबर में किया है।

आंखो में नहीं होती चुभन

प्रैक्टिकली देखा जाए तो अगर गाड़ी के टायरों के रंग लाल या पीला होता तो वो सड़क के रंग से मैच न करता। इसके अलावा ये आंखों को चुभता भी जिससे गाड़ी चला रहे चालक का फोकस बार-बार बिगड़ सकता था। 

इन वजहों से गाड़ी के टायरों में बने होते हैं खांचे

टायर की सतह पर बने खांचों की वजह से टायर को सड़क पर मजबूत पकड़ मिलती है जिससे टायर सड़क पर फिसलता नहीं हैं। साथ ही ये खांचे सड़क और टायर के बीच घर्षण को बढ़ाते हैं जिससे टायर को आगे बढ़ने में मदद मिलती है। जैसे जैसे टायर घिसते जाते हैं, इसकी पकड़ सड़क पर कमजोर होती जाती है।

यह भी पढ़ें

क्या होता है वीआईपी नंबर प्लेट? क्यों इसको लेने के लिए लोगों के बीच है क्रेज

1 लाख के अंदर आती हैं ये बेहतरीन बाइक्स, माइलेज के मामले में भी निभाएंगी आपका साथ

Edited By: Atul Yadav

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट