नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। ऐसा देखा गया है कि जब भी कार एक्सीडेंट होता है तो कई बार बड़े हादसे में भी कार के अन्दर बैठे हुए लोग पूरी तरह से सुरक्षित रहते हैं तो वहीं कई मामलों में छोटे-मोटे एक्सीडेंट में ही कार में बैठे हुए लोगों को गंभीर चोटें लग जाती हैं। वैसे तो सेफ्टी फीचर्स से लैस कारों में चोट कम लगती है लेकिन कार में लगाईं जाने वाली कुछ एक्सेसरीज ऐसी होती हैं जिन्हें लगाना खतरे से खाली नहीं होता फिर चाहे कोई एंट्री लेवल कार को या फिर सेफ्टी फीचर्स से लैस कोई प्रीमियम कार। आज हम आपको कार की उन्हीं एक्सेसरीज के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें अपनी कार से निकाल देना ही बेहतर होता है क्योंकि ये एक्सीडेंट के दौरान खतरनाक साबित हो सकती हैं।

कार ग्रिल केज

अक्सर लोग अपनी कार के फ्रंट में एक हैवी मेटल का ग्रिल केज लगवा लेते हैं। ये केज एक्सीडेंट के दौरान एयर बैग ना खुलने के पीछे का कारण बन सकता है। दरअसल जब कार का एक्सीडेंट होता है तो ये मेटल केज सेनर को अलर्ट नहीं करता है जिससे एयर बैग नहीं खुलता है और आपको गंभीर चोटें लग सकती हैं। ये केज कार के फ्रंट पोर्शन को तो बचा लेता है लेकिन कार में बैठे लोगों को इसके चलते गंभीर चोट लग जाती है। आपको ऐसे कार केज से बचने की जरूरत है।

डैशबोर्ड एक्सेसरीज

डैशबोर्ड एक्सेसरीज कई बार मेटल की बनी होती हैं और लोग इनका इस्तेमाल शोपीस के तौर पर करते हैं। एक्सीडेंट के दौरान अगर आपका सिर सही पोजीशन में नहीं है तो ये एक्सेसरीज आपके सिरपर लग सकती हैं और आपको ज्यादा चोट आ सकती है। ऐसे में कार के डैशबोर्ड को हमेशा खाली रखना चाहिए और उसमें रबर मैट लगानी चाहिए।

हैंगिंग एक्सेसरीज

कुछ लोग कार के फ्रंट में डेकोरेटिव हैंगिंग एक्सेसरीज लगाकर रखते हैं जो रियर व्यू मिरर से लगाईं जाती हैं। ये एक्सेसरीज एक्सीडेंट के दौरान आपके सिर या गले पर लग सकती हैं और आप जख्मी हो सकते हैं। कार में ऐसी एक्सेसरीज लगाना खतरे से खाली नहीं है, ऐसे में इन्हें लगाने से बचना चाहिए।  

Edited By: Vineet Singh