नई दिल्ली (ऑटो डेस्क)। दमदार फीचर्स, आकर्षक लुक एवं डिजाइन के चलते टाटा नेक्सन और हुंडई क्रेटा सब-कॉम्पैक्ट SUV में लोगों की पहली पसंद बनी हुई हैं। टाटा नेक्सन की शुरूआती कीमत 5.99 लाख रुपये से शुरू होती है, जबकि हुंडई क्रेटा की कीमत 9.29 लाख रुपये से शुरू होती है। इसमें सबसे बड़ा फर्क यह है कि टाटा नेक्सन के टॉप वेरिएंट की कीमत हुंडई क्रेटा के बेस वेरिएंट जितनी है। ऐसे में ग्राहकों को इन कारों को खरीने को लेकर काफी कंफ्यूजन रहती है। आज हम अपनी इस खबर के जरिए आपके उसी कंफ्यूजन को दूर करने जा रहे हैं।

क्या है कीमत?

हुंडई क्रेटा के पेट्रोल वेरिएंट की कीमत 9.29 लाख रुपये और डीजल वेरिएंट की कीमत 9.99 लाख रुपये से शुरू होती है। टाटा नेक्सन के पेट्रोल वेरिएंट की कीमत 5.99 लाख रुपये और डीजल वेरिएंट की कीमत 6.99 लाख रुपये से शुरू होती है। आज हमने कीमत को लेकर क्रेटा के ई और एस वेरिएंट की तुलना नेक्सन के टॉप वेरिएंट XZ+ और XZ + ड्यूल-टोन से है।

हुंडई क्रेटा ई प्लस को क्यों खरीदें?

- बड़ी और केबिन में स्पेस ज्यादा

- 1.6 लीटर पावरफुल पेट्रोल इंजन

- देशभर में हुंडई का बड़ा सर्विस नेटवर्क

कयों न खरीदें?

- नेक्सन ZX प्लस ड्यूल टोन से 1.22 लाख रुपये महंगी

- रियर पार्किंग सेंसर, कैमरा, की-लैस एंट्री, एडजस्टेबल ड्राइवर सीट और ऑटोमैटिक क्लाइमेट कंट्रोल का अभाव

- नेक्सन के मुकाबले फीचर्स में काफी पुरानी

हुंडई क्रेटा एस डीजल क्यों खरीदें?

- बड़ी और केबिन में ज्यादा स्पेस

- देशभर में हुंडई का बड़ा सर्विस नेटवर्क

- री-सेल वैल्यू में अच्छे दाम

क्यों न खरीदें?

- नेक्सन XZ प्लस डीजल ड्यूल टोन के मुकाबले 1.76 लाख रुपये महंगी।

- नेक्सन के मुकाबले कम पावरफुल

- रियर पार्किंग सेंसर, कैमरा, की-लैस एंट्री, एडजस्टेबल ड्राइवर सीट और ऑटोमैटिक क्लाइमेट कंट्रोल का अभाव

टाटा नेक्सन XZ+ पेट्रोल को क्यों खरीदें?

- फीचर्स से फुली लोडेड, टॉप वेरिएंट में एंड्रायड ऑटो, रियर पार्किंग सेंसर और कैमरा सपोर्ट करने वाला 6.5 इंच टचस्क्रीन सिस्टम, प्रोजेक्टर हैडलैंप्स, डे-टाइम रनिंग LED लाइटें, LED टेललैंप्स और 16 इंचं के मशीन कट एलॉय व्हील

- सिटी के हिसाब से बेहतर कॉम्पैक्ट साइज

- आकर्षक लुक और बेहतर डिजाइन

क्यों न खरीदें?

- कम पावरफुल इंज

- लो क्वालिटी वाले प्लास्टिक का केबिन में इस्तेमाल

टाटा नेक्सन XZ+ डीजल क्यों खरीदें?

- दमदार फीचर्स

- सिटी के हिसाब से बेहतर कॉम्पैक्ट साइज

- ज्यादा पावरफुल इंजन

क्यों न खरीदें?

- केबिन में लो क्वालिटी प्लास्टिक का किया गया इस्तेमाल 

Posted By: Ankit Dubey